जिला अस्पताल की व्यस्थाएँ रहेंगी यथावत, बर्न यूनिट बनेगा कोविड एल-2 हॉस्पिटल

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । कोरोना मरीजों के इलाज के लिए जिला संयुक्त चिकित्सालय को अब लेवल-2 में तब्दील नहीं किया जाएगा बल्कि अब जिला अस्पताल के पूर्वी भाग में स्थापित आईसुलेशन वार्ड और बर्नयूनिट को कोविड लेवल-2 हास्पिटल के रूप में उपयोग में लाया जाएगा।

इस संबंध में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने जानकारी देते हुए बताया कि “जिला संयुक्त चिकित्सालय में इमरजेंसी सेवा 24 घंटे क्रियाशील है। उन्होंने कहा कि जिले में बढ़ रहे कोरोना पॉजिटीव मरीजों की संख्या को देखते हुए कोविड एल-1 अस्पताल के बेडों की संख्या बढ़ायी जा रही है, जिसके लिए जिला अस्पताल का भी कोविड एल-1 हास्पिटल के रूप में उपयोग किये जाने की व्यवस्था है। उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल के पूर्वी भाग में स्थापित आईसुलेशन वार्ड और बर्नयूनिट को मिलाकर 45 बेड का कोविड एल-2 हास्पिटल के रूप में उपयोग में लाने की व्यवस्था है। उन्होंने कहा कि कोविड एल-1 व एल-2 में भर्ती होने वाले धनात्मक कोरोना संक्रमण के मरीजों का इलाज/देख-भाल करने वाले डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफों आदि की रहने व खाने की व्यवस्था कैम्पस में ही करने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिये जा चुके हैं। जिलाधिकारी ने हिदायत दी है कि कोरोना योद्धा के रूप में लेवल-1 व लेवल-2 के अस्पतालों में काम करने वाले डॉक्टरों व अन्य कार्मिकों को पूरी तरीके से सुरक्षित रखते हुए एक बेहतर सिस्टम के तहत कोरोना पॉजेटीव मरीजों की देखभाल की जाय। उन्होंने कहा कि गंभीर कोरोना पॉजेटीव मरीजों का पहले आईसुलेशन वार्ड में बेहतर उपचार करने के बाद आईसुलेशन वार्ड के करीब में स्थापित बर्न यूनिट भवन यानी कोविड एल-2 हास्पिटल में कोरोना के संक्रमित मरीजों को भर्ती की व्यवस्था सुचारू रूप से क्रियाशील रखी जाय।”


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!