अवैध खनन के खिलाफ वन विभाग की छापेमारी जारी, खनन माफियाओं में हड़कम्प

संजय केसरी (संवाददाता)डाला । अवैध खनन को लेकर वन विभाग लगातार छापेमारी कर खनन माफियाओं पर नकेल कसने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा हैं लेकिन खनन माफिया भी वन विभाग से एक कदम आगे चल रही है । विभाग नकेल कसने के लिए उपाय सोच रही है कि खनन माफिया उसका काट निकाल ले रहे हैं ।बतादें कि बीते 11जुलाई चोपन थाना क्षेत्र के रेडिया में वन विभाग की टीम के ऊपर अवैध बालू खनन माफियाओं द्वारा हमला किया गया था । जिसके बाद से वन विभाग अपने पूरे एक्शन में नजर आ रही हैं और अवैध बालू खनन माफियाओं के पीछे पैनी नजर लगाए हुए हैं । बहरहाल वन विभाग की इस कार्यवाही से अवैध बालू खनन माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है।

रविवार को वन विभाग की टीम मुखबीर की सूचना पर सुबह लगभग पाँच बजे ग्राम पंचायत बिल्ली मारकुंडी के बाड़ी स्थित सोन नदी3 में एकबार फिर छापा मारा । परन्तु टीम के पहुंचने से पहले अवैध बालू खनन माफियाओं एवं अवैध खनन कराने वाली गाड़ियां को भनक लग गया और वे मौके से भागने में कामयाब हो गए । परन्तु अवैध खनन करने वाले हड़बड़ाहट में मौके पर फावड़ा और जूता छोड़ कर ही भाग निकले । जब मौके पर वन विभाग की टीम पहुंची तो यह सारा सामान हाथ लगा । इसके अलावा खनन माफिया बाकी सामान नदी में फेंक कर फरार हो गए। इस छापेमारी से वन विभाग यह साफ कर दिया कि वह अवैध खनन के खिलाफ अपनी मुहिम जारी रखे हुए हैं और अवैध बालू खनन माफियाओं को किसी भी कीमत पर चलने नहीं देंगे ।
छापा मारने वाले वन विभाग की टीम में इन्दल कुमार मौर्या, रमाशंकर त्रिपाठी वन दरोगा, रामनगीना यादव एवं वनकर्मी मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!