जिला संयुक्त चिकित्सालय बनेगा एल-2 हॉस्पिटल, कवायद शुरू

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

० कल से बंद हो जाएगी इमरजेंसी सेवा

० इमरजेंसी सेवा को लेकर अभी नहीं बनी कोई अंतिम रणनीति

० जिले में चार दिनों के भीतर मिले 165 नए संक्रमण के मामले

० बढ़ते संक्रमण के मामले कर दृष्टिगत जिला प्रशासन ने 100 बेड के एल-2 हॉस्पिटल बनाने की शुरू की कवायद

सोनभद्र । जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण अब उग्र रूप लेने लगा है। मात्र चार दिनों के भीतर 165 नए मामले आए चुके हैं। अचानक बढ़ी कोरोना मरीजों की संख्या ने प्रशासन को हैरत में डाल दिया है। भारी पड़ते जुलाई माह के साथ प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग अगस्त माह के संभावित खतरे से निपटने की तैयारी में जुटा है।

इसी क्रम में जिला प्रशासन जिला संयुक्त अस्पताल को एल-2 हॉस्पिटल में तब्दील करने की कवायद में जुट गया है। हालांकि जिला अस्पताल में चल रही इमरजेंसी सेवा को लेकर कोई अंतिम रणनीति नहीं बन पाई।

आज सुबह जिलाधिकारी एस0 राजलिगम ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों संग बैठक कर संसाधन पर चर्चा किया। इसके बाद निर्णय लिया गया कि जिला अस्पताल को कोविड-2 अस्पताल बनाया जाएगा। इसकी कवायद शुरू हो गई है।

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ0 पी0बी0गौतम ने कहा कि “जिलाधिकारी के निर्देश के बाद जिला अस्पताल को एल-2 अस्पताल बनाने की कवायद आज से शुरू हो गई है। जिला संयुक्त अस्पताल को 100 बेड के एल-2 हॉस्पिटल में तब्दील किया जाएगा। जिला संयुक्त अस्पताल में 6 वेंटिलेटर की भी सुविधा मौजूद है। रविवार से इमरजेंसी बंद कर दी जाएगी और इसके बाद इमरजेंसी सेवा का संचालन कब, कहां और कैसे होगा अधिकारियों से वार्ता कर तय किया जाएगा।”


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!