सीबीएसई बोर्ड की 12वीं की परीक्षा में छात्राओं ने फिर मारी बाजी

प्रतीकात्मक तस्वीर

सीबीएसई बोर्ड की 12वीं की परीक्षा में छात्राओं का पास प्रतिशत बीते साल से 5.38 फीसदी बढ़ा है । सीबीएसई की ओर से दिए गए आंकड़ों के अनुसार इस साल कुल 1203595 छात्राओं ने परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था । इसमें से 1192961 ने परीक्षा दी, इनमें से 1059080 यानी कुल 88.78 फीसदी छात्राएं पास हुई हैं । ये प्रतिशत बीते साल की तुलना में 5.38 प्रतिशत ज्यादा है।

वहीं बीते साल 2019 में कुल 1218393 छात्राओं ने पंजीकरण कराया था और 1205484 ने 12वीं की परीक्षा दी थी, इनमें से 1005427 छात्राएं पास हुई थीं। इस तरह बीते साल छात्राओं का पास प्रतिशत 83.40% था ।

वहीं अगर छात्रों की तुलना में रिजल्ट की बात करें तो लड़कियां इसमें भी आगे रही हैं । इस साल छात्रों की तुलना में छात्रों का पास प्रतिशत 5.96 प्रतिशत अध‍िक रहा है । साल 2019 में जहां लड़कों के 79.40 पास प्रतिशत के सामने 88.70 प्रतिशत लड़कियां पास हुई थीं । वहीं इस साल लड़कों के बढ़े पास प्रतिशत 86.19 प्रतिशत की तुलना में 92.15 फीसदी लड़कियां पास हुई हैं । जो कि लड़कों से 5.96 प्रतिशत अध‍िक है ।

सीबीएसई ने 12वीं क्लास के रिजल्ट घोषित कर दिए हैं । मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि सीबीएसई ने 12वीं के रिजल्ट घोषित कर दिए हैं । आप इसे http://cbseresults.nic.in पर देख सकते हैं. सभी लोगों की मेहनत से रिजल्ट घोषित हो पाया है।
बोर्ड की ओर से दी गई जानकारी के मुताब‍िक इस साल 88.78% छात्रों ने 12 वीं सीबीएसई परीक्षा उत्तीर्ण की । इस साल परीक्षा में त्रिवेंद्रम, बेंगलुरु और चेन्नई प्रदर्शन के मामले में टॉप थ्री रहे हैं। इस साल जहां दिल्ली जोन में 94.39% परिणाम आया है, वहीं लड़कियों का प्रतिशत 92.15 प्रतिशत रहा ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!