भुपौली पम्प कैनाल के नहर का तटबंध टूटा, फसल जलमग्न

अनिता अग्रहरी (संवाददाता)
रैथा मांगलपुर नहर के समीप टूटे तटबंध को बांधते किसान

धीना। भुपौली पम्प कैनाल से निकली नहर में ओभरफ्लो पानी होने से शनिवार को रैथा मांगलपुर नहर का तटबंध टूट गया।इससे किसानों के दर्जनों एकड़ धान की रोपाई हुई फसल जलमग्न हो गया।किसानों ने काफी प्रयास कर तटबंध को बांधने का काम किया।बावजूद पानी के तेज बहाव से किसानों को सफलता नहीं मिल पाया।तत्कालीन सपा सरकार में पूर्व सैयदराजा विधायक मनोज सिंह डब्लू के अथक प्रयास से भुपौली पम्प कैनाल पर उच्च क्षमता वृद्वि व पक्का पम्प कैनाल का निर्माण 2013 में 110 करोड़ रुपये से कराया गया था।ताकि किसानों के खेतों को टेल तक पानी मुहैया हो सके।इन दिनों भुपौली पम्प कैनाल से निकली नहरों का तटबंध काफी जर्जर हो गया है।शनिवार को रैथा मांगलपुर नहर के समीप तटबंध टूट गया।इससे किसानों के सैकड़ों एकड़ धान की रोपाई फसल जलमग्न होने से डूब गई।सैयदराजा के पूर्व सपा विधायक मनोज सिंह डब्लू ने कहा कि किसानों की मांग पर सपा सरकार में भुपौली पम्प कैनाल का पक्काकरण व उच्च क्षमता वृद्धि करवाया गया था।ताकि किसानों को टेल तक पानी पहुंच सके।बावजूद प्रदेश सरकार नहरों के तटबंध को मजबूत करवाने में नाकामयाब साबित हो रही है।सपा सरकार आने पर भुपौली पम्प कैनाल से जुड़ी समस्त नहरों को टेल से हेड तक पक्कीकरण कराया जाएगा।इस मौके पर दयाराम यादव, जयनाथ यादव, पेबारू राम, कृष्णा, रामदुलार यादव एडवोकेट, अलाउद्दीन, इबरार अहमद आदि रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!