आध्यात्मिक गुरु स्वामी विवेकानंद की पूर्णतिथि पर कार्यक्रम आयोजित

गौरव पाण्डेय (संवाददाता)

फरीदपुर । जगवीर पाल सिंह तोमर शिक्षा समिति ने कार्यालय पर वेदांत के विख्यात और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु, युग प्रवर्तक स्वामी विवेकानंद की पुण्यतिथि पर उन्हें शत-शत नमन करते हुए कार्यक्रम आयोजित किया । इस अवसर पर समिति की प्रबंधक कुसुमलता तोमर ने स्वामी विवेकानंद के चित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद युवाओं की क्षमता और परिवर्तनकारी शक्ति पर बहुत विश्वास रखते थे । उनका मानना था कि युवा वर्ग ही आने वाले समय में राष्ट्र के विकास को सही दिशा और शक्ति देगा। उनके आदर्श आज भी युवाओं को राष्ट्र सेवा के प्रति प्रेरित करते हैं। समिति के प्रदेश अध्यक्ष समाजसेवी अमित तोमर एडवोकेट ने कहा कि कम उम्र में भारतीय संस्कृति को विश्व स्तर तक पहुंचाने वाले महान आध्यात्मिक गुरु समाज सुधारक और युवाओं के प्रेरणा स्रोत स्वामी विवेकानंद को कभी भी भूला नहीं जा सकता। वर्ष 1902 में आज ही के दिन 4 जुलाई को पश्चिम बंगाल के बेलूर मठ में स्वामी विवेकानंद जी का ध्यान मुद्रा में निधन हो गया था, तब उनकी उम्र मात्र 39 वर्ष ही थी । स्वामी विवेकानंद के शिष्यों ने कहा था कि उन्होंने महासमाधि की अवस्था को प्राप्त कर लिया है । मैं ऐसे युवाओं के प्रेरणा स्रोत को कोटि-कोटि नमन करता हूं ।

पुण्यतिथि पर समिति के कार्यकर्ता रामबाबू मौर्य, रजनीश सिंह, सूर्य प्रताप सिंह, अरुण तोमर, सरला देवी शर्मा, सुरेंद्र जाटव सहित अन्य पदाधिकारियों ने स्वामी विवेकानंद के चित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए पुण्यतिथि पर याद कर नमन किया ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!