अवैध कटान, खनन और अतिक्रमण रोकना पहली प्राथमिकता- राजेश सोनकर

एस प्रसाद (संवाददाता)

– प्रभारी रेंजर कार्यभार सम्भालते ही क्षेत्र के कटान और खननकर्ताओं पर सख्ती का रवैया अपनाया

– कटान में कर्मचारियों की संलिप्ता कत्तई बर्दाश नहीं किया जाएगा

– बड़ा सवाल, आखिर अब तक क्यों पकड़ से दूर हैं वन माफिया

– म्योरपुर रेंज संवेदनशील होने के बाद रेंजर का चार्ज लेने से कतरा रहे अधिकारी

म्योरपुर । मुख्य वन संरक्षक लखनऊ की जांच में मिले व्यापक गड़बड़ियों व व्यापक पैमाने पर कीमती लकड़ियों के कटान के बाद रेंजर सहित दो वन कर्मी पर गाज तो गिर गया लेकिन अभी तक वन माफिया वन प्रशासन की गिरफ्त से बाहर हैं । लखनऊ टीम के जाने के बाद से रेनुकूट बन प्रभाग भी काफी एक्टिव नजर आने लगा है । रेनुकूट के डीएफओ सक्रिय हुए तो म्योरपुर वन रेंज की पोल भी परत दर परत खुलने लगी । अब आलम यह हो गया है कि कोई म्योरपुर रेंज ऑफिस पर कार्य करने को तैयार नहीं । क्योंकि कभी कमाईदार रेंज में गिना जाने वाला रेंज ऑफिस अब संवेदनशील की श्रेणी में आ गया है। यही कारण है कि अब यहां प्रभारी का पद ग्रहण करने में कई अधिकारी पीछे हट गए।

अभी हाल ही में अनपरा रेंजर यहां के प्रभारी बनकर आये थे लेकिन उनके कार्यकाल में मुखबिर की सूचना पर जिस तरह से गांव से रेडीमेट फर्नीचर व लकड़ियां बरामद हुई, वह काफी चर्चा में रहा । विभाग इस बात का पता लगाने में जुटा ही था कि आखिर कीमती लकड़ियों से बना फर्नीचर किसका था । लेकिन तब तक रेंजर ने अपना प्रभारी का पद छोड़कर मूल स्थान पर लौट लिए।
जिसके बाद अब राजेश कुमार सोनकर ने प्रभारी रेंजर पद पर कार्यभार ग्रहण किया है। राजेश कुमार ने खास बातचीत में बताया कि उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता अवैध कटान, खनन और अतिक्रमण रोकना है। उन्होंने ने कहा कि जिसकी जिम्मेदारी उन्हें मिली है उसका ईमानदारी से निर्वहन करूँगा। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों समेत किसी की भी अवैध कार्य में कहीं से भी संलिप्ता की बात सामने आती है तो उसे बख्शा नही जाएगा।उन्होंने जनता से अपील किया है कि वन संरक्षण में सहयोग करें और कोई भी जानकारी हो तो प्रशासन को अवगत कराएं । आगे कहा कि क्षेत्र में लकड़ियों की छापेमारी पहले जैसे जारी रहेगी।

बहरहाल प्रभारी रेंजर राष्ट्रीय धरोहर बचाने में कितना खरा उतरते हैं यह तो वक्त तय करेगा।लेकिन अब तक जो बरामदगी हुई है उस मामले को लेकर वन माफिया कब सलाखों के पीछे होंगे यह देखना दिलचस्प होगा ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!