जिलाधिकारी की अध्यक्षता में वन्य जीव बिहार के ईको सेंसिटिव जोन के निर्धारण हेतु समीक्षा बैठक सम्पन्न

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव की अध्यक्षता में पीलीभीत वन्य जीव बिहार के ईको-सेंसिटिव जोन का निर्धारण हेतु समीक्षा बैठक गांधी सभागार, में सम्पन्न हुई। आयोजित बैठक में पीलीभीत वन्य जीव बिहार के ईको-सेंसटिव जोन के निर्धारण हेतु पीलीभीत टाइगर रिजर्व की वन सीमा से 01 किलोमीटर की परिधि को ईको-सेंसिटिव जोन अधिसूचित करने का प्रस्ताव शासन को प्रेषित किये जाने का निर्णय लिया गया। ईको सेंसिटिव जोन वाणिज्य खनन, वृक्षों की कटाई, आरा मिलों की स्थापना, प्रदूषण के कारण उद्योगों की स्थापना, होटल रेस्टोरेंट की स्थापना, जैविक खेती, सड़कों का चैडीकरण व अन्य कुल 27 विन्दुओं की गतिविधियों पर प्रतिबन्ध नियंत्रण एवं अनुमान्य गतिविधियों पर विचार-विमर्श किया गया।
आयोजित बैठक में जिलाधिकारी द्वारा वन्य जीव बिहार को हानिकारक रसायनिक पदार्थों से बचाव हेतु 500 मी0 क्षेत्र में आने वाले कृषि भूमि पर किसानों से आॅर्गनिक खेती को बढ़ावा देने के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। उन्होंने कहा ईको-सेंसटिव जोन में वह समस्त कार्य प्रतिबन्धित किये जायेगें जिनसे वन्य जीवों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की सम्भावना है
बैठक प्रभागीय वनाधिकारी टाइगर रिजर्व नवीन खण्डेलवाल, मुख्य विकास अधिकारी श्रीनिवास मिश्र, अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) देवेन्द्र प्रताप मिश्र, अधिशासी अभियन्ता शारदा सागर, खण्ड, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग, अधिशासी अभियन्ता विद्युत वितरण खण्ड, क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी, क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी, उप जिलाधिकारी सदर, उप जिलाधिकारी पूरनपुर, उप जिलाधिकारी कलीनगर, एआरटीओ अभिताभ राय, जिला गन्ना अधिकारी जितेन्द्र कुमार मिश्रा सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!