मनरेगा भुगतान को लेकर श्रमिकों ने किया बीडीओ का किया घेराव

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

राजगढ़ । विकास खंड के लालापुर ग्राम पंचायत की तीन दर्जन मनरेगा श्रमिक महिला व पुरुषों ने ब्लाक परिसर पहुंचकर खंड विकास अधिकारी का घेराव कर अपने खून पसीने की कमाई का रुपया मांगने लगी। बीडीओ दिनेश कुमार मिश्र ने कोरोना का बहाना लगा कर उल्टा डांट कर महिलाओं को भगाने लगे लेकिन महिलाएं अपनी मांगों पर डटी रही। जबकि ग्राम सचिव ब्लाक सभागार में मस्टर रोल की हाजिरी पढ़ने लगे तो उसमें आधा दर्जन से ऊपर की हाजिरी केवल एक मस्टररोल में फर्जी भरी गई थी। हालांकि बीडीओ ने शनिवार को बैंक जाकर जांच कराने का आश्वासन देकर शांत कराया।
आक्रोशित महिलाओं का आरोप था कि बीडीओ ने बगैर मस्टररोल के नाम पर काम करने का बहाना बनाए वही ग्राम सचिव उमाकांत तीसरे सप्ताह में हाजिरी भरने का आश्वासन दिए। जबकि सारे जाबकार्ड धारक दो सप्ताह से ऊपर तीन सप्ताह तक परिवार के साथ लालापुर की नदी खोदाई में काम किया। महिलाओं ने आरोप लगाते हुए बताया कि पिछले वर्ष प्रधानमंत्री आवास में भी यही उमाकांत ग्राम सचिव और उनके द्वारा नामित गांव का रामजनम कोल दूसरे के नाम पर हाजिरी भर कर बैंक से पैसा निकाल लिया था। इसी प्रकार इस वर्ष भी आधी अधूरी हाजिरी भर तथा दर्जनों लोगों की हाजिरी गायब कर अपने चहेते परिवार के लोगों के नाम पर हम गरीबों का लाखों रुपये डकारने की फिराक में है। किसी प्रकार बीडीओ द्वारा नामित रामजनम कोल को साथ लेकर शनिवार को बैंक में खाता चेक करा कर निस्तारण का आश्वासन दिया तब जाकर महिलाएं शांत होकर वापस शाम पांच बजे अपने-अपने घर चली गई।

इस मौके पर प्रमिला, ऊषा, उर्मिला, शकुंतला, लालती, धानमती, ऊषा द्वितीय, सोनी, नचकी, शिव कुमारी, संतरा, धीरावती, रामनरेश, गुंजा, दयाराम आदि ने एक सप्ताह के अंदर भुगतान न मिलने पर प्रदर्शन करने की चेतावनी दी गई।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!