सपाजनों पर लाठीचार्ज करना घोर निंदनीय-शाहिद

फ़ैयाज़ खान ग़ाज़ीपुर(ब्यूरो)

गाजीपुर। पिछले कई दिनों से पेट्रोल डीजल के मूल्य में बेतहाशा वृद्धि को लेकर जताए जा रहे विरोध का जब सरकार पर असर होता नहीं दिखा तो लोकतांत्रिक तरीके से कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए राजधानी लखनऊ में सड़क पर उतर विरोध प्रदर्शन कर रहे सपा कार्यकर्ताओं पर योगी जी की पुलिस द्वारा बर्बर लाठीचार्ज किया जाना घोर निंदनीय है। यह बातें समाजवादी छात्र सभा जिला सचिव गाजीपुर शाहिद भाई ने कहते हुए सरकार की इस कार्यवाही को तानाशाही करार दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार जनता की आवाज को दबाने का काम कर रही है। डीजल और पेट्रोल के मूल्यों में ऐतिहासिक वृद्धि पर मौन है, जिसका खामियाजा आम जनता, किसान, व्यापारी सभी भुगत रहे हैं। जन मुद्दे को लेकर लोकतांत्रिक तरीके से विरोध जता रहे सपा नेता और कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किया गया, दौड़ा दौड़ा कर मारा गया, इसकी हम घोर निंदा करते हैं। वर्तमान सरकार की नीतियों के चलते आज आमजन त्रस्त और बेहाल है। एक तरफ कोरोना की मार दूसरी तरफ बेतहाशा महंगाई और सरकार की अनदेखी जनता कभी बर्दाश्त नहीं करेगी। आने वाले वक्त में ऐसी गूंगी बहरी सरकार को सबक सिखाने का काम प्रदेशवासी अवश्य करेंगे।मालूम हो कि डीजल तथा पेट्रोल के लगातार बढ़ते दाम के विरोध में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी व कांग्रेस के प्रदर्शन के बाद शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सड़क पर उतरे। विधान भवन के सामने प्रदर्शन करने जा रहे समाजवादी पार्टी के इस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने पहले रोकने का प्रयास किया फिर पुलिस ने लाठियां भांज दीं। लाठीचार्ज में समाजवादी पार्टी के एक दर्जन से अधिक कार्यकर्ता घायल हो गए हैं। वहां पर मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड के अध्यक्ष अनीस राजा के साथ कई कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे थे। इसके साथ पुलिस ने आठ-नौ समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं हिरासत में लिया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!