फसल बीमा में लापरवाही बरतने वाली बीमा कंपनी होगी ब्लैक लिस्टेड, डीएम ने लिखा पत्र

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । किसान देश रीढ़ हैं, किसानों का सर्वांगीण विकास करके ही चतुर्दिक विकास मुमकिन है, लिहाजा खरीफ फसल से सम्बन्धित उपलब्ध संसाधनों का इस्तेमाल किसान भाईयों के हित में किया जाय। जब किसान खुशहाल होगा, तभी देश खुशहाल होगा। कम लागत पर अधिक उत्पादकता की वैज्ञानिक खेती पर विशेष ध्यान दिया जाय। उन्नतशील बीजों की व्यवस्था के साथ ही उर्वरक व कृषि रसायनों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाय।
उक्त निर्देश जिलाधिकारी एस0 राजिंलगम ने आगामी दिनों में होने वाली मण्डल स्तरीय खरीफ गोष्ठी की तैयारी बैठक में सम्बन्धितों को दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि परम्परागत खेती के साथ ही वैज्ञानिक खेती, रोजाना आमदनी वाली साग-भाजी की खेती, बागवानी, पशु पालन, मछली पालन, दुग्ध विकास पर विशेष ध्यान दिया जाय और कम लागत पर अधिक उत्पादकता को बढ़ावा दिया।

समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने पाया कि फसल बीमा योजना का लाभ जानबूझकर इन्श्योरेंन्स कम्पनी द्वारा नहीं दिया जा रहा है। जिलाधिकारी ने लापरवाही में यूनिवरसेल सोम्पो जनरल इन्श्योरेन्स कम्पनी को ब्लैक लिस्टेट करने के लिए उत्तर प्रदेश शासन को जिलाधिकारी की तरफ से पत्र भेजवाने के निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि किसान भाईयों के चतुर्दिक विकास के लिए हर मुमकिन कोशिश की जाय और खरीफ फसल के लिए पर्याप्त बीज, खाद, कृषि रसायन की व्यवस्था की जाय। उन्होंने कहा कि उर्वरक के रैक प्वाइंट के लिए रेलवे मार्केटिंग व कृषि विभाग की संयुक्त कोशिश करके रैक प्वाइंट के संचालन में रेलवे स्टेशन राबर्ट्संगंज की जमीन में यूको लिप्टस के पेड़ों की नियमानुसार जल्द से जल्द कटान करवाकर रैक प्वाइंट के लिए सुगम सम्पर्क मार्ग की व्यवस्था कराते हुए जल्द से जल्द उर्वरक आदि के लिए रैक प्वाइंट को संचालित किया जाय।

बैठक में जिलाधिकारी के अलावा मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, परियोजना निदेशक आर0एस0 मौर्या, डीसी मनरेगा टी0बी0 सिंह, उप निदेशक कृषि डी0के0 गुप्ता, जिला कृषि अधिकारी पीयूष राय सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!