कोई भी हमारी एक इंच जमीन की तरफ आंख उठाकर भी नहीं देख सकता- पीएम मोदी

गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए । इस घटना के बाद भारत में आक्रोश देखा जा रहा है। हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सर्वदलीय बैठक के बाद दिए संबोधन में इशारों में चीन को चार कड़े संदेश दे दिए हैं ।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कड़ा संदेश देते हुए भारत की तरफ आंख उठाकर देखने वालों को सबक सिखाने की बात कही । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सर्वदलीय बैठक के बाद कहा कि न तो वहां कोई हमारी सीमा में घुसा हुआ है और न ही हमारी कोई पोस्ट किसी दूसरे के कब्जे में है । लद्दाख में हमारे 20 जांबाज शहीद हुए लेकिन जिन्होंने भारत माता की तरफ आंख उठाकर देखा था, उन्हें वो सबक सिखाकर गए ।

पीएम मोदी ने ये भी जता दिया है कि अब भारत डिफेंस के लिहाज से भी काफी मजबूत है । पीएम मोदी ने कहा कि बीते वर्षों में देश ने अपनी सीमाओं को सुरक्षित करने के लिए बॉर्डर एरिया में इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट को प्राथमिकता दी है। हमारी सेनाओं की दूसरी आवश्यकताओं जैसे फाइटर प्लेन, आधुनिक हेलीकॉप्टर, मिसाइल डिफेंस सिस्टम आदि पर भी हमने बल दिया है । नए बने हुए इंफ्रास्ट्रक्चर की वजह से खासकर एलएसी में अब हमारी पेट्रोलिंग की क्षमता भी बढ़ गई है।

पीएम मोदी ने कड़ा संदेश देते हुए इस बात को भी सामने रख दिया है कि राष्ट्रहित से बढ़कर कुछ भी नहीं है। पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रहित, देशवासियों का हित हमेशा हम सभी की सर्वोच्च प्राथमिकता रही है । राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए जो भी जरूरी काम हैं, जो भी जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण है, उसे इसी तरह तेज गति से आगे भी किया जाता रहेगा । आज हमारे पास ये क्षमता है कि कोई भी हमारी एक इंच जमीन की तरफ आंख उठाकर भी नहीं देख सकता ।

साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये संदेश भी दिया है कि भारत किसी भी बाहरी दबाव के आगे नहीं झुकेगा। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि चाहे ट्रेड हो, कनेक्टिविटी हो, काउंटर टेरेरिज्म हो, भारत ने कभी किसी बाहरी दबाव को स्वीकार नहीं किया है ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!