23 दिन बाद सऊदी से आया मृतक का शव

अजमल शाहीन (संवाददाता)

गाज़ीपुर। के थाना शादियाबाद छेत्र के कैथवलिया गाँव में एक ऐसे परिवार का मामला है जिसके दो छोटे छोटे लडके एक लड़की है जिसकी पत्नी है और बूढ़ी माँ है | बच्चों के सर से बाप का साया उठ गया माँ का लाल बिछड़ गया पत्नी का सुहाग उजड़ गया ये सब 23 मई को सात समुन्दर पार सऊदी में हुआ है | मृतक की लाश आज सुबह 11 बजे मृतक के गाँव आई, मृतक गिरीश विश्वकर्मा पुत्र रामअवध विश्वकर्मा अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए सऊदी गए थे जहाँ पर उनका देहांत हो गया था आज 23 दिन बाद जब घर वालो के सामने मृतक की डेथ बॉडी घर आयी तो घर वालो में चीख पुकार मच गई, घर वालो का कहना है की लाश को लाने के लिए शादियाबाद थाने से मदद मांगी उन्होंने गाज़ीपुर डीएम के पास भेज दिया वहां पर भी कोई सुनवाई नहीं हुई तो लोगों ने भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव (निरहुआ ) से मदद की गुहार लगाई ।निरहुआ ने परिवार की पीड़ा सुनी और अथक प्रयास कर के डेथ बॉडी को सऊदी से दिल्ली फिर वहां से गाज़ीपुर मृतक के गाँव कैथवलिया में घर तक मंगाया। जहाँ लोगों में दुख का माहौल था तो वहीं दिनेश लाल यादव (निरहुआ ) की लोगो ने प्रशंसा भी की। मृतक का बड़ा बेटा लकी 12वर्ष आयुष 8वर्ष और लड़की विनीता 3वर्ष है मृतक का छोटा भाई किशोर चंद विश्वकर्मा है | घर का पूरी ज़िम्मेदारी मृतक गिरीश के ऊपर थी|


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!