सुरक्षित सूर्य ग्रहण अवलोकन…

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत। समाधान विकास समिति विपनेट क्लब के तत्वावधान में व्हाट्सएप के माध्यम से 21/6/2020 को पड़ने वाले सूर्य ग्रहण के सुरक्षित अवलोकन का अभियान आरंभ कर दिया है। जागरुकता लेख में समन्वयक लक्ष्मीकांत शर्मा ने बताया कि पृथ्वी अपनी धुरी पर घूमने के साथ साथ सौरमंडल में सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाती है। चन्द्रमा पृथ्वी का उपग्रह है और पृथ्वी के चक्कर लगाता है। चन्द्रमा चक्कर काटते काटते जब सूर्य और पृथ्वी के बीच आ जाता है तो पृथ्वी पर आंशिक या पूर्ण सूर्यग्रहण पड़ता है। विशेषज्ञ धीरेन्द्र सिंह विभागाध्यक्ष भौतिक विज्ञान जेएमबी इंस्टीट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज ने बताया कि नंगी आंखों से सूर्य ग्रहण न देखें। ग्रहण के दौरान खतरनाक सोलर रेडिएशन निकलते हैं। यह आंखों के नाजुक टिश्यू को नुकसान पहुंचाते हैं। विजन इश्यू आ सकता है इसे सनबर्न के नाम से जानते हैं। आंखों से देखने में परेशानी होती है। यह स्थायी या अस्थायी हो सकती है। सावधानी बरतें। पिन होल कैमरा या सूची छिद्र कैमरा बनाने की विधि बतायी। यह सरल है तथा इसमें कोई लैंस प्रयुक्त नहीं होता है। सुगम है तथा अधिकतम लागत रुपये 5.00 से अधिक नहीं है। इसे बनाकर ग्रहण देखने में प्रयोग करें। यह आपकी सृजनात्मकता और रचनात्मकता को नये आयाम देगा। संतोष खरे गीता कुमारी यामिनी मिश्रा अंकित कुमार सिंह ने सूची छिद्र कैमरा बनवाने में सहयोग किया। हिमांशु महतो पारस पंत रितिका भाटिया शशि राठौर, कुलदीप व कोमल द्वारा सूची छिद्र कैमरा वनाये गये। इनकी सराहना की गई व उज्जवल वैज्ञानिक भविष्य की कामना की गई।बाल एवं किशोर। में सृजनात्मकता व रचनात्मकता बढ़ाने के क्लब के प्रयासों को गति दी गई है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!