15 जून से 1 लाख 11 हजार मनरेगा श्रमिकों को एक साथ मिलेगा रोजगार

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । कोरोना वायरस के दृष्टिगत लगाये गये लाॅकडाउन के समय जनपद में जाॅबकार्ड धारकों व दूसरे राज्यों से आये प्रवासी मजदूरों को रोजगार दिलाने में जनपद में मनरेगा योजना की महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। मुख्यमंत्री द्वारा जनपद में आए प्रवासी मजदूरों को अधिक से अधिक से रोजगार देने हेतु निर्देशित किया गया है।इसी क्रम में जनपद में जिलाधिकारी के निर्देशन में एक बड़ा अभियान संचालित किया जा रहा है जिसके अंतर्गत मनरेगा के तहत जनपद में 15 जून से एक साथ एक लाख गयारह हजार मजदूर एक साथ कार्य करेंगे। कल से जनपद की 721 ग्राम पंचायतों में एक साथ रिकॉर्ड संख्या में उपरोक्त मजदूर मनरेगा में एक साथ काम करते हुए विकास कार्यो को आगे बढ़ाएंगे। इस अभियान के तहत जनपद में बाहर से आये प्रवासियों को रोजगार का नया अवसर प्राप्त होगा। इससे पूर्व लाॅकडाउन में मिली छूट के अन्तर्गत पिछले माह तक जनपद में 07 लाख 61 हजार मानव दिवस सृजित करते हुये श्रमिकों को रोजगार प्रदान किया गया है।जनपद में 15 जून को मनरेगा योजना के अन्तर्गत जनपद की 721 ग्राम पंचायतों में 1821 काम एक साथ कराये जाएंगे। जनपद में मनरेगा के माध्यम से विभिन्न विकास कार्य कराये जा रहे हैं, जिससे बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूरों को लगातार रोजगार मिल रहा है



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!