गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने पहुंचे एसएसपी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के घर को बम से उड़ाने की धमकी के बाद गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ सुनील गुप्ता मंदिर पर पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया ड्यूटी कर रहे कर्मचारियों को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि मंदिर परिसर में आने वाले हर व्यक्ति को मेटल डिटेक्टर से होकर गुजारते हुए सधन तलाशी लेते हुए मन्दिर में जाने दे तथा आने वाले हर शख्स पर विशेष नजर सीसीटीवी कैमरे रखी जा रही है । मंदिर परिसर में एल आई यु व पुलिस के जवान सादी वर्दी में हर आने जाने वाले वाले व्यक्तियों पर कड़ी नजर रखे हुए हैं। मालूम हो कि प्रदेश पुलिस की आपातकालीन सेवा डायल -११२ पर फोन कर सूचना दी गई थी।

सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास और राज्य के कई अन्य स्थानों पर बमबारी की धमकी दी गई है। उन्होंने कहा कि इस धमकी भरे संदेश के बाद मुख्यमंत्री के पांच कालिदास मार्ग स्थित आवास की सुरक्षा मजबूत कर दी गई है। उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार के कई वरिष्ठ कैबिनेट मंत्रियों का भी कालिदास मार्ग पर निवास है।

सूत्रों ने बताया कि धमकी मिलने के बाद डॉग स्क्वायड और बम निरोधक दस्ते की मदद से जांच की जा रही है। पुलिस आसपास के वीआईपी इलाकों में भी सघन चेकिंग कर रही है। सूत्रों के मुताबिक धमकी का पता लगाने की कोशिश की जा रही है।
अज्ञात व्यक्ति ने राज्य में 50 अलग-अलग जगहों पर बम विस्फोट करने की भी धमकी दी है। इससे पहले भी मुख्यमंत्री योगी को जान से मारने की धमकी दी जा चुकी है। पिछले महीने कामरान नाम के एक व्यक्ति ने राज्य पुलिस के सोशल मीडिया हेल्पडेस्क को फोन किया और सीधे मुख्यमंत्री योगी को बम से उड़ाने की धमकी दी। कामरान मुंबई में रहता था और उसे महाराष्ट्र पुलिस के आतंकवाद निरोधी दस्ते ने गिरफ्तार किया था।इस लिए गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त कर दी गयी है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!