सोने से एक घंटे पहले खाने वालों में वजन बढ़ने का खतरा होता हैं ज्यादा

रात में देर से खाना खाने से रक्त शर्करा का स्तर बढ़ जाता है और इससे व्यक्ति का वजन बढ़ने का जोखिम ज्यादा हो जाता है। एक हालिया शोध में पाया गया है कि रात को सोने से ठीक पहले खाना खाने से शरीर पोषक तत्वों और ग्लूकोज को ठीक से संसाधित नहीं कर पाता। इसकी वजह से रात को 10 बजे खाना खाने वाले लोगों में शाम को 7 बजे खाने वालों की तुलना में 10%तक कम कैलोरी जलती है।

स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव:
जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी ने 20 स्वस्थ प्रतिभागियों पर यह शोध किया। प्रमुख शोधकर्ता डॉक्टर चेनजुआन गू ने कहा, सोने से एक घंटे पहले खाना खाने वालों में रक्त शर्करा को स्तर जल्दी भोजन करने वालों की तुलना में 18 फीसदी ज्यादा पाया गया और सोने के दौरान जलने वाली कैलोरी में भी दस फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। पूर्व के शोधों में भी पाया गया है कि रात को देर से खाना खाने से स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

दुनियाभर में तकरीबन 2.1 अरब लोग मोटापे की समस्या से जूझ रहे हैं। मोटापा मधुमेह और उच्च रक्तचाप का सबसे अहम कारण माना जाता है। शोधकर्ताओं ने कहा कि मोटापे से पीड़ित लोगों में रात को देर से खाने की आदत और भी खतरनाक हो सकती है क्योंकि उनका चयापचय पहले से ही कमजोर होता है।

शोध:
-रात को देर से खाने वालों में 10% धीमी जलती है कैलोरी।
– देर से भोजन करने पर रक्त शर्करा में अतिरिक्त 18 फीसदी की बढ़ोतरी होती है।
– सोने से एक घंटे पहले खाने वालों में वजन बढ़ने का खतरा ज्यादा होता है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!