सीएम ने बाल श्रमिक विद्या योजना का किया शुभारंभ

दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो

पीलीभीत । अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश द्वारा बाल श्रमिक विद्या योजना का शुभारम्भ किया गया। इस योजना के अंतर्गत 08-18 आयु वर्ग के ऐसे कामकाजी बच्चे/किशोर किशोरी, जो कि निम्नलिख्ति श्रेणी के परिवारों के सम्बन्ध रखते हैं, ऐसे परिवार जिनमें माता या पिता अथवा दोनों की मृत्यु हो चुकी हो, ऐसे परिवार जहां माता या पिता अथवा दोनों स्थायी रूप से दिव्यांग हों, ऐसे परिवार जहां महिला या माता परिवार की मुखिया हो, ऐसे परिवार जहां माता या पिता अथवा दोनों किसी गम्भीर असाध्य रोग से ग्रसित हों भूमिहीन परिवार का लाभार्थी के रूप में सम्मिलित किये जा सकेंगे।
योजना के अंतर्गत कामकाजी बच्चे के लिये आर्थिक सहायता की धनराशि प्रत्येक माह रू0 1000/- बालकों के लिये व रू0 1200/- बालिकाओं के लिये देय होगी। जो लाभार्थी कामकाजी बालक/बालिका व किशोर/किशोर योजना के अंतर्गत कक्षा 8,9 व 10 तक की शिक्षा प्राप्त करते हैं तो उन्हें 8 उत्तीर्ण करने पर रू0 6000/- कक्षा 9 उत्तीर्ण करने पर रू0 6000/- तथा कक्षा 10 उत्तीर्ण करने पर रू0 6000/- की अतिरिक्त धनराशि प्रोत्साहन के रूप में देय होगी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!