बीजिंग में 56 दिनों बाद फिर सामने आया वायरस, स्वास्थ्य विभाग में हलचल तेज

बीजिंग में गुरुवार को 56 दिनों बाद कोरोना वायरस का मामला सामने आया है । इस घटना के साथ ही स्वास्थ्य विभाग में हलचल तेज हो गई क्योंकि बीजिंग में लगभग दो महीने से कोई मामला सामने नहीं आया था। हालांकि कुछ कोरोना मरीजों का इलाज चल रहा था । बुधवार को एक अंतिम मरीज को भी डिस्चार्ज कर दिया गया जिसका इलाज चल रहा था । चीन में कोरोना वायरस के 16 नए मामले सामने आए हैं ।

बीजिंग के शिचेंग इलाके में गुरुवार को कोरोना का मामला सामने आया है । पिछले 56 दिन से चीन की राजधानी बीजिंग में कोरोना का कोई केस नहीं था। ‘चाइना डेली’ ने स्थानीय निगम अधिकारियों के हवाले से बीजिंग में कोरोना मरीज मिलने की जानकारी दी । बता दें, चीनी सरकार ने बीजिंग में कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर काफी सख्ती बरती है ताकि यह लोगों में न फैले । सरकार ने ऐलान किया है कि स्थानीय लोग भी देश के किसी क्षेत्र से या विदेश से बीजिंग पहुंचते हैं तो उन्हें क्वारनटीन रहना होगा ।

बीजिंग में प्रशासन ने 5 जून को कोविड की इमरजेंसी सेवाओं में ढील देने का ऐलान किया था क्योंकि कोरोना के मामले न के बराबर हो गए थे । 9 जून को अस्पताल में भर्ती अंतिम कोरोना मरीज को भी डिस्चार्ज कर दिया गया । गुरुवार की घटना से पहले तक बीजिंग में 420 केस सामने आए थे जिनमें 9 मरीजों की मौत हुई थी । ये सभी लोग स्थानीय स्तर पर फैले संक्रमण से ग्रसित पाए गए थे ।

गुरुवार को मिला मरीज बीजिंग का स्थानीय निवासी है जिसे बीजिंग डिटान हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है । यह हॉस्पिटल कोविड मरीजों के लिए खास तौर पर बनाया गया है । इस मरीज के संपर्क में दो लोग आए हैं जो परिवार के ही सदस्य हैं । दोनों को मेडिकल निगरानी में रखा गया है । बीजिंग हेल्थ अथॉरिटी ने मीडिया को यह जानकारी दी ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!