वैष्णों मन्दिर पर नहीं दिख रही श्रद्धालुओं की भीड़, मन्दिर के पुजारी ने बताया क्या हुए बदलाव

जनपद न्यूज ब्यूरो

डाला । 8 जून को सरकार ने नई गाइड लाइंस जारी कर सभी धार्मिक स्थलों को खोलने का निर्देश दिया था। जिसके बाद सोनभद्र में भी डाला वैष्णो मन्दिर के कपाट भी खोल दिया गया । हालांकि श्रद्धालुओं की भीड़ पहले जैसे नहीं दिखा रहा लेकिन जो भी श्रद्धालु मन्दिर पहुंच रहे हैं उन्हें पूरे गाइड लाइन का पालन करना पड़ रहा है ।
हमारे डाला संवाददाता संजय केसरी ने वैष्णो मन्दिर शक्तिपीठ धाम के पुजारी श्रीकांत तिवारी से खास बातचीत की ।

पुजारी श्रीकांत तिवारी ने बताया कि कई महीनों बाद श्रद्धालुओं को माँ वैष्णो के दर्शन मिले हैं। उन्होंने बताया कि अभी भीड़ काफी कम है लेकिन भक्त आ रहे हैं ।
उन्होंने बताया कि श्रद्धालुओं को खुद से पूजा-अर्चना करना है, वह भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुये । उन्होंने बताया कि हम लोगों को टीका भी श्रद्धालुओं को लगाना मना है । प्रसाद का वितरण नहीं होगा ।

कोरोना संक्रमण के बीच सरकार द्वारा भले ही मन्दिर के कपाट खोलने के आदेश जारी किया गया हो लेकिन प्रशासन पूरी तरह से एतिहात बरत रहा है । इसी क्रम में जिलाधिकारी के निर्देश पर मन्दिर के सभी घण्टों को कपड़े से ढक दिया गया हैं ताकि इस महामारी से बचा जा सके।

मन्दिर पर आए श्रद्धालुओं ने बताया कि बगैर मास्क के मंदिर जाना वर्जित हैं और दूर से आये दर्शनार्थियों के लिए हाथ धोने की व्यवस्था व मन्दिर में प्रवेश के पहले हाथों को सेनिटाइज करने की व्यवस्था की गई हैं। श्रद्धालुओं ने संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि कई महीनों बाद माता के दर्शन हुए हैं बहुत अच्छा लगा । उन्होंने बताया कि सावधनी खुद को बरतनी है इसलिए खुद भी सेनिटाइजर लेकर चल रहे हैं । श्रद्धालुओं को उम्मीद है कि सभी जगह प्रभु के कपाट खुल गये है, अब कोरोना भी भाग जाएगा ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!