चांची के सोन नदी पर निर्माणाधीन पुल से गाटर गिरने का मामला, सदर विधायक ने किया स्थलीय निरीक्षण

पी0के0 विश्वकर्मा (संवाददाता)

कोन । बीते 26 व 27 मई को चांची के सोन नदी पर निर्माणाधीन पुल पर गाटर चढ़ाते समय लगातार चार गाटर गिरने से एक बड़ा हादसा टल गया था । घटना को लेकर क्षेत्र में दहशत के साथ तरह-तरह की चर्चाएं हो रही थी । चूंकि लॉक डाउन के कारण मामला दब गया लेकिन सदर विधायक ने इसे उसी समय गंभीरता से लिया था और आज मंगलवार को उसी क्रम में सदर विधायक मौके पर पहुंचकर कार्यों का जायजा लिया ।

पीडब्ल्यूडी द्वारा कराए जा रहे कार्य में इतनी बड़ी लापरवाही को लेकर सदर विधायक भूपेश चौबे ने उपस्थित अधिकारियों को जमकर फटकार लगायी । विधायक ने कहा कि इतना बड़ा हादसा होने के बाद भी अभी तक एफआईआर क्यों नहीं कराई गयी।
हालांकि गाटर गिरने से किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुयी थी।फिर भी 60-60 टन का गाटर गिरने से ग्रामीणों में दहशत देखा जा रहा था । यह भी संयोग था कि कोरोना वायरस के चलते सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा था, इस लिए लेवरों की संख्या भी कम थी ।

बतादें कि ग्रामीणों व भाजपा मंडल अध्यक्ष सुनील जायसवाल ने पुल निर्माण में अनियमितता की शिकायत सदर विधायक से की थी । उसी के क्रम पर मंगलवार को सदर विधायक भूपेश चौबे ने गाटर गिरने का कारण वहां के अधिकारियों से पूछा । पूछताछ करते हुये क्रेन द्वारा 15 मीटर उपर पिलर पर भी चढकर देखा, व सभी को फटकार लगाते हुये टेक्निकल जांच कराकर गुणवत्ता युक्त पुल निर्माण कराने का सख्त हिदायत दिया।
बतादे कि उक्त पुल पिछले कई वर्षों से निर्माणाधीन है, जो चांची में सोन नदी पर रानीडीह जोड़ने के लिए बन रहा है । जिसकी लम्बाई डेढ किमी0 है । जो लगभग 141 करोड़ से बनाई जा रही है ।

मौके पर विधायक के साथ मंडल अध्यक्ष सुनील जायसवाल, जिला उपाध्यक्ष शिवकुमार गुप्ता, महामंत्री विद्यानंद तिवारी, अमरनाथ, प्रहलाद गुप्ता, विनोद गुप्ता, संजय चतुर्वेदी, प्रधान मिथिलेश जायसवाल, समेत दर्जनों कार्यकर्ता ग्रामीण व प्रभारी निरीक्षक राजेश सिंह समेत दर्जनों लोग मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!