देर रात वन विभाग की जमीन पर कब्जा करने पहुंचे भूमाफिया, अवैध कब्जे को वनकर्मियों ने रोका

मुकेश अग्रवाल(संवाददाता)

■ बेशमीमती जमीनों पर वर्षों से है जमीन माफियाओं की नजर

■ बड़ा सवाल आखिर क्यों नहीं सुलझ रही वन विभाग के जमीन का मसला

■ उभ्भा की घटना के बाद भी सोनभद्र में जमीनी विवाद का क्रम जारी

■ तहसीलों में आते हैं सबसे ज्यादा जमीनी विवाद के मामले

बीजपुुुर । सोनभद्र में भूमि विवाद थमने का नाम नही ले रहा है । चाहे जोत-कोड़ की जमीन हो या फिर ग्राम समाज की बंजर भूमि हो या फिर सड़क किनारे वन विभाग की बेशकीमती भूमि, सब जगह भूमाफियाओं की नजर लगी हुई है।

क्षेत्र में जमीन सम्बंधित विवादों से हत्या जैसे जघन्य अपराध भी हो चुके है इसके बाबजूद प्रशासन आंख बंद कर शायद उम्भा जैसे किसी बड़ी घटना की बाट जोह रहा है।

ताजा मामला सोमवार की देर रात लगभग 2बजे की है । जब दर्जनभर से अधिक की संख्या में लोग स्थानीय बीजपुर बाजार के उत्तरी पटरी पर स्थित बीजपुर-रेनुकूट मुख्य मार्ग पर वन विभाग की बेसकीमती जमीन को कब्जा करने पहुंचे थे । लेकिन आसपास के लोगों को जानकारी हुई तो तत्काल इसकी सूचना वन विभाग समेत पुलिस को दी । जिसके बाद भारी संख्या में पुलिस बल व वन विभाग के कर्मी मौके पर पहुंच गए और कब्जा करने के लिए साथ लेकर आये पाइप व लोहे की सीटों को अपने कब्जे में ले लिया । वन विभाग के कर्मी व पुलिस ने और कब्जा करने वालों को दोबारा कब्जा न करने की सख्त हिदायत दी । साथ ही वन विभाग के कर्मचारी वन अधिनियम की धारा 5/26,63 की कार्यवाई कर स्थानीय थाने में आरोपी के विरुद्ध लिखित सूचना कर दी है।
बताया जाता है कि उक्त भूमि पर कब्जे को लेकर दो लोगों में वर्षो से विवाद चलता आ रहा है । अगर शासन-प्रशासन अभी भी नही चेता तो वन विभाग की भूमि पर अवैध कब्जे को लेकर किसी भी बड़ी घटना से इंकार नही किया जा सकता है।

गौरतलब हो कि जमीनी विवाद में विगत दो साल पहले सिरसोती गांव में भी कुल्हाड़ी से वार कर एक युवक की हत्या कर दी गयी थी तथा पिछले सप्ताह भी महरिकला गांव में जमीनी विवाद में चाचा ने भतीजे को कुल्हाड़ी से मार कर मौत की नींद सुला दिया था

ताजा मामलों पर नजर रखी जाये तो वर्तमान समय मे बीजपुर बाजार के उत्तर पटरी सहित क्षेत्र में उपजे दर्जनों जमीनी विवाद के कारण पक्ष और विपक्ष में आग सुलग रही है। जो किसी भी दिन भी ज्वालामुखी बनकर फूट सकता है ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!