गंगा जमुना का तहजीब देखने को मिला भिखारी के अंतिम संस्कार में

जय प्रकाश (संवाददाता)

-खाना बैंक के सदस्य ने दिखाई दरियादिली

अनपरा। अनपरा थाना क्षेत्र के कहुआनाला पाइप लाइन के पास एक भिखारी की मौत में दिखा हिन्दू – मुस्लिम की तहलीज। बताते हए भीख मांग कर अपने खुद व बीबी को जिलाने वाला चला गया।लाक डॉउन में खाना बैंक ने भोजन दोनों टाइम देती रही,जब इस खाना बैंक पर गिध की नजर पड़ गई तब लगातार 45दिन जन सहयोग से चलाने के बाद आखिर बंद कर दिया गया।तब से यह बुजुर्ग भिखारी इधर उधर भटक कर पेट चलाता था।कुछ तबियत खराब होने के बाद रविवार को दुनिया से अलविदा हो गया।इधर गम में उसकी बीबी का रो रो कर बुरा हाल हो गया था।की अब इस मुसीबत में कोन साथ देगा। तभी वहां कुछ हिम्मत वाले देखने तो कई आए, पर सभी वहां से रफूचक्कर हो जाने में भी अपनी भलाई समझी। किसी ने कोरोना तो किसी ने अन्य रोग का हवाला देकर वहां से भाग खड़े हुए ।तभी इस मामले की जानकारी खाना बैंक के सदस्य समाजसेवी पंकज मिश्रा व सद्दाम हुसैन को दी गई। तत्काल उसके घर पहुंचकर रो रहे बीबी व अन्य को हिम्मत देते हुए खुदा का मर्जी बताया।

पंकज मिश्रा ने उसे अंतिम संस्कार करने का भरोसा दिलाया भिखारी के घर रो रहे परिजन को दरिया दिल दिखाते हुए उसके कफन और लकड़ी का प्रबंध भी तत्काल किया गया ।खाना बैंक ने अपने पास से उसके अंतिम संस्कार की समान व्यवस्था की। सद्दाम हुसैन, मेहताब कुरैशी के साथ श्मशान घाट पंकज मिश्रा अन्य ने ले गया जहां विधि विधान से अंतिम संस्कार कराया, इस तरह के नेक कार्य देख लोग अचरज में पड़ गए। भारतीय संस्कृति में गंगा जमुना तहजीब का मिसाल देखा गया। इस कार्य में सहयोग करने वाले में मिथुन यादव ,लाले पंडित ,विजय गौर रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!