किसानों तक पहुंचेगा मोबाइल क्रय केंद्र, खरीदेंगे गेहूं

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । सरकारी खरीद केंद्रों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। किसान केंद्रों पर पहुंचने से मुंह मोड़ रहे हैं। आलम यह है कि खरीद लक्ष्य से भटक चुका है। लाख कवायद के बाद भी किसान खरीद केंद्रों पर गेहूं लेकर नहीं पहुंच रहे थे। खरीद की स्थिति खराब देखते हुए सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन द्वारा आज से जिले में 67 मोबाइल क्रय केंद्रों को सक्रिय कर दिया गया। संबंधित एजेंसियां किसानों के घर पहुंचकर गेहूं की तौल सरकारी रेट पर करेंगी। इस व्यवस्था से किसानों को खरीद केंद्र के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे।
आज जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने 67 मोबाइल क्रय केंद्रों को सक्रिय कर दिया। इसके लिए खाद्य विभाग के 15, पीसीएफ संस्था के 39, कर्मचारी कल्याण निगम के दो, नेफेट के तीन, पीसीयू के पांच, एनसीपीएफ के दो और भारतीय खाद्य निगम के एक खरीद केंद्र को सचल मोबाइल सिस्टम के लिए अधिकृत किया गया है। गेहूं क्रय केंद्र प्रभारी अपने तहसील क्षेत्र के करीबी इलाकों में पहुंचकर किसानों से सम्पर्क कर गेहूं खरीदेंगे। राजस्व विभाग के लेखपाल, कृषि विभाग के किसान सहायक, मंडी परिषद के अधिकारियों व कर्मचारियों को बिक्री के लिए प्रेरित करने का जिम्मेदारी सौंपी गई है। सहकारिता क्षेत्र के क्रय एजेंसियों के लिए निर्धारित गेहूं खरीद लक्ष्य को एडीओ सहकारिता के मध्य विभाजित करने का निर्देश दिया गया है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!