मन के नकारात्मक ऊर्जा को हटाकर आपको सकारात्मक बनाएंगी,जानें ये 4 बातें

कभी-कभी ऐसा होता है कि हमारे मन में किसी एक छोटी-सी बात को लेकर निराशा हावी होने लगती है। हम हर बात को सोचकर निराश होने लगते हैं, ऐसे में मन से निराशा निकालने के लिए बहुत जरूरी है कि कुछ बातों पर विचार किया जाए। खासकर तनाव और निराशा को लॉकडाउन के दौरान खुद पर हावी होने से रोकने के लिए आपको खुद ही पूरी कोशिश करनी होगी, वर्ना आप अपने लक्ष्य से दूर होते जाएंंगे। नकारात्मक विचारों या भावों से घिरना ही मन का ऐसा अंधकार है, जिससे आप जीवन में पिछड़ते जाते हैं।

कभी भी रूकें नहीं:
मार्टिन लूथर किंग जूनियर के अनुसार ‘अगर आप उड़ नहीं सकते तो दौड़े, दौड़ नहीं सकते तो पैदल चलें, और पैदल नहीं चल सकते तो रेंगना शुरू करें मतलब कि आप जो भी करें लेकिन आगे बढ़ते रहें’ ऐसे में ध्यान रखें कि एक योद्धा को थमना चाहिए लेकिन रूकना कभी नहीं चाहिए।ऐसे में अगर आप रूक भी गए हैं, तो यह न भूलें कि योद्धा का रूकना चिंता की बात नहीं है लेकिन उसका भागना या थम जाना चिंता की बात है इसलिए चलते रहें।

दुख को दूसरों से शेयर करें:
इस पृथ्वी पर कोई भी जीव ऐसा नहीं है, जिसके जीवन में दुख न हो।ऐसे में आपका दुख भी एक सामान्य बात है।ऐसे में अपना दुख शेयर करने से कतराएं न, अपने किसी भरोसेमंद से अपने मन की बात जरूर शेयर करें।

आत्मविश्वास को रखें बरकरार:
आत्मविश्वास होने पर आप खुशी का अनुभव करते हैं, वहीं अगर कोई भी आपको कुछ कह देता है, तो आप इस बात को मन से नहीं लगाते क्योंकि आपको खुद पर भरोसा रहता है कि आप असल में क्या हैं।ऐसे में जब भी निराशा मन पर हावी होने लगे, खुद पर भरोसा रखें।

अच्छी किताबें पढ़ें:
किताबों से बढ़कर आपका कोई दोस्त नहीं हो सकता।आप अगर उदास हैं, तो कोई अच्छी किताब पढ़ें जिससे न सिर्फ आपको कुछ सीखने के लिए मिल सके बल्कि आपका मूड भी फ्रेश हो।आप किसी महान व्यक्ति की जीवनी भी पढ़ सकते हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!