अधिवक्ता के साथ मारपीट का, अधिवक्ताओं ने किया कड़ी निंदा

अबुलकैश (डब्बल)

बैठक कर निंदा करते अधिवक्ता

चन्दौली। मुख्यालय निर्माण संघर्ष समिति की एक आपात बैठक शनिवार को तहसील परिसर चंदौली में सोशल डिस्टेंसिंग व माननीय उच्च न्यायालय द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए किया गया। जिसमें बरंगा गांव के अधिवक्ता श्रीराम सिंह मौर्य एडवोकेट को दबंगों द्वारा भीड इकट्ठाकर, लाक डाउन व महामारी एक्ट का उल्लंघन करते हुए गांव में घुसनें व मना करने पर घर मे घुसकर मारने पीटने की कड़ी निंदा की गई । बैठक को संबोधित करते हुए समिति के प्रभारी वरिष्ठ अधिवक्ता संतोष कुमार पाठक “एडवोकेट” ने कहा की श्री राम सिंह मौर्या का गांव बरंगा गांव हॉटस्पॉट घोषित है श्री राम सिंह मौर्या का कसूर सिर्फ इतना था कि वे लाकडाउन व हाटस्पाट के नियमों का उल्लंघन कर कुछ दबंग जो 30-35 की संख्या में जिसमें बगल गांव के होम कोरंटाईन वाले भी कई लोग थे, जबरदस्ती, बिना मास्क लगाये , और एक भीड की शक्ल में बरंगा गांव में घुस रहे थे ,उनको अधिवक्ता अपने गांव में आने से रोकना चाहते थे और वह रोक रहे थे ताकि कोरोरोना संक्रमण न फैले, इसी वजह से उनको , व उनकी पत्नी व दो भाईयों को उन दबंग लोगों ने घर में घुसकर बुरी तरह से मारा पीटा । अधिवक्ता ने तहरीर थाना सैयदराजा में दी परंतु सिर्फ खानापूर्ति हुई , थानाध्यक्ष सैयदराजा ने कोई कार्यवाही नहीं की । अधिवक्ताओं ने पुलिस अधीक्षक चंदौली से मामले में तुरंत हस्तक्षेप करने और दबंगों के खिलाफ महामारी एक्ट ,लाकडाउन उल्लंघन, घर में घुसकर मारपीट करने आदि के तहत उचित कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है । बैठक में मनीष तिवारी, अमरनाथ यादव श्रीकांत, श्री कान्त, कौशलेश कुमार तिवारी , दिलीप शर्मा आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता संतोष कुमार पाठक ” एडवोकेट ” ने की।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!