अमेरिकी राष्ट्रपति ने चीन पर साधा निशाना, ट्वीट कर कहा- कोरोना वायरस चीन के द्वारा पूरे विश्व को दिया गया एक बहुत ‘बैड गिफ्ट’

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने फिर एकबार कोरोना महामारी को लेकर चीन पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कोरोना वायरस चीन के द्वारा पूरे विश्व को दिया गया एक बहुत ‘बैड गिफ्ट’ है। यह ठीक नहीं है। यह कोई पहला मौका नहीं है, जब प्रेसिडेंट ट्रंप ने चीन पर निशाना साधा है। इससे पहले भी उन्होंने कोरोना को चाइनीज वायरस करार दिया था। इसके लिए उन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) पर भी पक्षपातपूर्ण रवैया अपनाने का आरोप लगाया था।

कल ही अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को लेकर इस सप्ताह के अंत तक कोई बड़ी घोषणा करने का वादा किया है और संकेत दिया है कि वह चीन को दंडित करने के बारे में हो सकता है। ट्रंप ने मंगलवार को कहा, ‘हम कुछ करने जा रहे हैं और मुझे लगता है यह आप लोगों को पसंद आएगा, लेकिन इसकी घोषणा मैं आज नहीं करूंगा।’

चीन के वुहान शहर से कोरोना वायरस के दुनियाभर में फैलने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चीन को लेकर काफी हमलावर रहे हैं। हाल ही में ट्रंप प्रशासन ने चीन की दो संस्थाओं पर प्रतिबंध लगा दिया था। इनमें से एक संस्था सैन्य प्रौद्योगिकी को आगे बढ़ा रही थी, तो दूसरी संस्था बीजिंग में चीन के मुस्लिमों पर हुए हमलों का समर्थन कर रही थी। दोनों को अमेरिकी प्रशासन ने प्रतिबंधित कर दिया।

वाणिज्य विभाग ने शुक्रवार को पश्चिमी चीन में झिंजियांग उइगुर स्वायत्त क्षेत्र में कथित मानव अधिकारों के उल्लंघन में को लेकर नौ संस्थाओं के नाम दिए थे। सूची में सात कंपनियों को शामिल किया गया है जो क्षेत्र में उच्च-प्रौद्योगिकी निगरानी में बीजिंग की सहायता करते हैं।

इसके अलावा अमेरिकी वाणिज्य विभाग ने चीन, हांगकांग और केमैन आइलैंड्स में स्थित 24 चीनी वाणिज्यिक और सरकारी संस्थाओं को टारगेट किया है। इन सभी 33 संस्थाओं को ब्लैकलिस्ट में जोड़ा गया, जिन्हें राष्ट्रीय-सुरक्षा को लेकर खतरे के रूप में माना जाता है या समझा जाता है कि ये सभी अमेरिका की विदेश नीति के विपरीत गतिविधियों में लगे हुए हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!