तीन दिनों में स्कूल कायाकल्प की रिपोर्ट प्रस्तुत करें कार्यदायी संस्थाएं : डीएम

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । “स्कूल कायाकल्प के तहत स्कूलों का जीर्णेद्धार सम्बन्धी आगणन रिपोर्ट कार्यदायी संस्थाए युद्ध स्तर पर लगकर तीन दिनों के अन्दर मुहैया कराएँ। स्कूलों की चहारदीवारी का मरम्मत/जीर्णोद्धार मनरेगा योजना के तहत डीसी मनरेगा, बीएसए व खण्ड विकास अधिकारी टीम भावना के साथ लगकर पूरा कराएँ। एक गॉव-एक बाग को मूर्त रूप देने के लिए जमीनों का चयन प्राथमिकता के आधार फलदार बडे कद के पौधे की व्यवस्था समयबद्ध तरीके से कर ली जाय।”
उक्त निर्देश जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने आज समीक्षा बैठक करते हुए कलेक्ट्रेट मीटिंग हाल में दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि मनरेगा के माध्यम से स्थानीय नागरिकों को ज्यादा से ज्यादा स्थानीय स्तर पर रोजगार मुहैया कराया जाय। उन्होंने समीक्षा बैठक में मौजूद अधिकारियों को सहेजने के साथ ही आरोग्य सेतु एप व राहत मित्र एप के इस्तेमाल पर जोर दिया। आगामी बरसात के मौसम में पौधरोपण योजना को एक गांव-एक बाग के रूप में फलदार ऊंचे के कद के पौधों को रोपित किया जाय, ताकि स्थानीय स्तर पर छाया के साथ ही नागरिकों को आगामी वर्षों में फल भी मिल सके। उन्होंने स्कूल कायाकल्प की समीक्षा करते हुए जिले के सभी परिषदीय स्कूलों का जीर्णोद्धार कर प्रथम श्रेणी में स्कूलों में लाने की नसीहत सम्बन्धितों को दी। मौके पर मौजूद मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह सहित अन्य सम्बन्धितों ने जिले में कराये जाने वाले कार्यों व कोरोना के संक्रमण से बचाव सम्बन्धी उठाये गये कदमों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

बैठक में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम के अलावा मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह, प्रभागीय वनाधिकारी संजीव कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी सदर यमुनाधर चौहान, जिला विकास अधिकारी रामबाबू त्रिपाठी, डीसी मनरेगा टी0बी0 सिंह, डीपीआरओ आर0के0 भारती, बीएसए डॉ0 गोरखनाथ पटेल, खान अधिकारी मो0 महबूब सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!