प्रेमी युगल ने ट्रेन से कटकर दी जान

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही (ब्यूरो)

ग़ाज़ीपुर । गाजीपुर में गुरुवार की सुबह प्रेमी युगल ने ट्रेन के इंजन से कटकर जान दे दी। नोनहरा थाना क्षेत्र के फतेहपुर अटवा हाल्ट के पास पश्चिमी छोर की क्रासिंग पर दोनों एक दूसरे का हाथ पकड़कर इंजन के आगे कूद गए। लोको पायलट ने वायरलेस से गाजीपुर सिटी स्टेशन और कंट्रोल रूम को इसकी जानकारी दी। जीआरपी ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
वाराणसी के सारनाथ थाना क्षेत्र के पैगंम्बरपुर निवासी कृष्ण कुमार राजभर का ननिहाल गाजीपुर के बनसरा गांव में था। ननिहाल में मामा के नहीं होने पर उसकी मां सावित्री कुछ घरों में कामकाज करती थी। गांव के ही एक व्यवसायी ने सावित्री को अपने घर काम पर रख लिया था।
व्यवसायी के घर आने जाने के दौरान उसकी बेटी से सावित्री के बेटे कृष्णा का प्रेम संबंध हो गया। दोनों में नजदीकियां बढ़ गईं। परिजनों को पता चला तो पहाड़ टूट पड़ा। नौकरानी के बेटे से बेटी का प्यार कतई मंजूर नहीं था। दोनों का मिलना-जुलना बंद कराने के साथ लड़की को बाहर भेजने की तैयारी हो गई।

इसी बीच 23 मई को मौका पाकर युवती छत के रास्ते घर से फरार हो गई। कोई साधन नहीं होने के कारण युवती को लेकर युवक अटवामोड़ क्रासिंग के पास स्थित एक दोस्त के घर पहुंचा। इधर, युवती के पिता ने युवक के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई।
युवती के पिता ने गुरुवार की सुबह युवक के परिजनों को फोन कर जेल भेजने की धमकी दी। इसकी जानकारी प्रेमी युगल को मिली तो दोनों ने जेल जाने की जगह साथ साथ मरना मंजूर कर लिया। दोनों ट्रेन के आगे कूदकर जान देने पहुंच गए। क्रासिंग पर संटिंग होने जा रहे रेल इंजन के आगे दोनों कूद पड़े।
हादसे में प्रेमिका का सिर फट गया और प्रेमी के सिर में गंभीर चोट लगी। इससे पहले कि अस्पताल पहुंचाया जाता, दोनों की मौत हो चुकी थी। जानकारी पाकर दोनों के परिजन भी मौके पर पहुंच गए।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!