मुस्लिम समाज के लोगों द्वारा अपने अपने घरो पर ही अलविदा जुम्मा की नमाज़ की गई अदा

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा (संवाददाता)

चोपन। लॉकडाउन के मद्देनजर नगर स्थित जामा मस्जिद व आस पास की सभी मस्जिदो मे रमजानुल मुबारक के आखरी शुक्रवार यानि अलविदा जुम्मा की नमाज़ मुस्लिम बंधुओं ने अपने अपने घरों में ही अदा की। इस दौरान जामा मस्जिद के सदर जनाब लल्लन कुरैशी से पूछे जाने पर उन्होंने चोपन की आवाम को अपील करते हुए कहा कि अपने अपने घरो पर ही ईद की नमाज अदा करें इस मुश्किल दौर में हम सबकी जिम्मेदारी है कि इस जानलेवा वायरस कोरोना से खौफ खाने की बजाय उससे अपनी और अपने साथ समाज की हिफाजत के लिए सामाजिक दूरी का पालन करें साथ ही अपने घरों में ही रहे और मुल्क की सलामती के लिए रोजाना घर पर ही दुआख्वानी पढ़े ।वही चेयरमैन प्रतिनिधि उस्मान अली भी अपने घर पर ही जोहर की नमाज़ अदा की और उन्होंने बताया कि कोविड-19 से रोकथाम हेतु सरकार के गाईड लाईन के अनुसार सभी लोग सामाजिक दुरी का पालन करते हुए अपने अपने घरो पर ईद की नमाज़ पढे़ और पूरे मुल्क की सलामती के लिए दुवाए मागे।वही अलविदा जुम्मा के मौके पर मुस्लिम बन्धुओं ने अपील को माना और नमाज़ के लिए मस्जिदों का रूख नही किये,लोगों ने अपने अपने घरो पर ही नमाज़ अदा की और विश्व महामारी कोरोना वायरस से निजात के लिए दुआ मांगी।वही अन्त मे अंजुमन कमेटी के सेक्रेटरी महफूज आरिफ़ ने कहा कि सदर एशोसिएशन के जानिब यह अपील है कि ईद की नमाज़ सुबह 8 बजे मुकर्रर की गई है अन्ततः अपने अपने घरो पर ही ईद की नमाज़ पढ़े।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!