सदर विधायक को मंत्री ने लिखी चिट्ठी

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही

ग़ाज़ीपुर (ब्यूरो)। गाजीपुर सदर विधायक डॉ0 संगीता बलवंत की मेहनत रंग लाने वाली है। नंदगंज चीनी मिल के लिए निजी निवेशकर्ता/विकासकर्ता को आमंत्रित करने का प्रयास किया जा रहा है। यह जानकारी यूपी के गन्ना विकास एवं चीनी मिल मंत्री सुरेश राणा ने सदर विधायक डॉ0 संगीता बलवंत को पत्र के माध्यम से दी है। डॉ0 संगीता बलवन्त ने बताया कि नन्दगंज चीनी मिल चालू कराने के लिए विधानसभा में मांग की थी जिसके क्रम में गन्ना विकास एवं चीनी मिल मंत्री सुरेश राणा का एक पत्र मुझे प्राप्त हुआ है। जिसमें बताया गया है कि 8 सितंबर 1998 के शासनादेश में उत्तर प्रदेश चीनी निगम की पांच चीनी मिलों जिसमें नंदगंज चीनी मिल भी सम्मिलित है, को आगामी पेराई सत्र से न चलाए जाने का निर्णय लिया गया था। 
प्रदेश हित में रोजगार का सृजन करने, व्यवसायिक गतिविधियों को बढ़ावा देने, गन्ना किसानों के उत्थान और क्षेत्र के आर्थिक सांस्कृतिक सामाजिक विकास के दृष्टिगत निगम की तीन मिलों जिसमें नंदगंज चीनी मिल सम्मिलित है, कि भूमि को दीर्घकालीन लीज पर निजी निवेशकर्ता/ विकासकर्त्ता को देकर इंटीग्रेटेड कांप्लेक्स के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया गया था। मंत्री ने बताया कि इस निर्णय के अनुपालन में चीनी निगम द्वारा अनेक बार निविदाएं आमंत्रित की गई, परंतु सफलता हासिल नहीं हुई। 26 फरवरी 2020 को एक बार पुनः EOI आमंत्रित किया गया, लेकिन किसी भी निवेशकर्ता ने नंदगंज चीनी मिल के लिए रुचि नहीं दिखाई। उन्होंने अवगत कराया है कि निगम के पास वित्तीय स्रोत न होने की स्थिति में ही निजी निवेशकर्ता/ विकासकर्ता को आमंत्रित करने का प्रयास जारी है। मालूम हो कि सदर विधायक द्वारा नंदगंज चीनी मिल को पुनः संचालित कराने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!