रहमतो का महीना है रमजानुल मुबारक-उष्मान अली

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा (संवाददाता)

चोपन। वैश्विक महामारी के मद्देनजर पूरे भारत देश मे लाकडाउन 4 को 31मई तक बढ़ा दिया गया है वही लाकडाउन मे मुकद्दस माह-ए – रमजान के पहले रोजे से 27वें रोजे तक गुरूवार की शाम नगर के जामा मस्जिद में परवेज साहब किबला द्वारा दुवाए खतमुल कुरान मुकम्मल हुई जहाँ लाकडाउन व सामाजिक दूरी का पालन करते हुए मात्र तरावीह की खास नमाज़ अदा करने वाले मौलाना सद्दाम साहब किबला,मौलाना अब्दुल कुद्दुस साहब को लेकर खत्म तरावीह के मौके पर हाफिज व कारी परवेज साहब किबला ने एक कुरान तरावीह मुकम्मल की वही सभी मुस्लिम भाईयों की तरफ से अंजुमन फ्लाहुल कमेटी के सेक्रेटरी महफूज आरिफ़ ने उनको फूल माला पहनाकर उनका इस्तकबाल किया व बारगाह परवरदिगार में हाथ उठाकर अपने अपने गुनाहों की माफी मांगी और पूरी दुनिया से वैश्विक महामारी को दूर करने के लिए रो रोकर दुवाए मांगी गई ।इस दौरान हाफिज व कारी परवेज साहब किबला ने कहा कि रमजान का महीना बड़ा ही बरकत वाला महीना है इस महीने में अल्लाह रब्बुल इज्जत रोजेदारों के ऊपर बेशुमार रहमते नाजिल फरमाता है। रोजेदारों को अल्लाह त आला जन्नत का खास दरवाजा बाबुर्रईयान से दाखिल फरमाएगा । उन्होंने कहा कि कुरान का पढ़ना और पढ़ाना सुन्नते खैरुल अनाम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम है हाथो को फैलाकर अल्लाह की बारगाह मे अपने गुनाहों की माफी मागी और पूरी दुनिया से कोविड-19 से निजाद दिलाने व मुल्क में अमन व शान्ति के लिए दुआएं की। तत्पश्चात जामा मस्जिद के पेश इमाम सद्दाम साहब किबला ने सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के शान मे सलातो सलाम का नजराना ए अकीदत पेश की । अन्त मे चेयरमैन प्रतिनिधि उस्मान अली ने चोपन के पूरे आवाम की तरफ से हाफिज व कारी परवेज़ साहब किबला को अंगवस्त्र व नजराना दिया आगे उन्होंने अपील करते हुए कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19से रोकथाम हेतु सरकार के गाईड लाईन के अनुसार सभी लोग सामाजिक दुरी का पालन करते हुए अपने अपने घरो मे ही अलविदा जुम्मा व ईद की नमाज़ पढ़े और पूरे मुल्क से कोरोना के बचाव हेतु दुवाए मागे।इस मौके पर ईदू भाई, इस्तियाक अहमद मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!