अब क्वारन्टीन सेंटर पहुंचाने वाले वाहन चालकों को तेल उपलब्ध कराएगा प्रशासन- डीएम

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिला मजिस्ट्रेट एस0 राजलिंगम ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में लॉक डाउन जारी है। लॉक डाउन के दौरान गैर प्रांतों, जनपदों से इस जिले के सीमावर्ती मार्गों द्वारा कामगारों/नागरिकों का लगातार आना-जाना जारी है, जिनके बारे में जिला प्रशासन को पहले से कोई सूचना नहीं होती। शासनदेशानुसार ऐसे व्यक्तियों के आगमन पर जनपदीय क्षेत्रों में तहसीलवार निर्धारित ट्रांजिट प्वाइंट पर उनका विधिवत मेडिकल परीक्षण किये जाने और संदिग्ध पाये जाने की सूरत में, संदिग्ध नागरिकों को जिले में स्थापित क्वारंटाइन सेन्टरों में आवश्यकतानुसार क्वारंटाइन किये जाने या स्वस्थ्य पाये जाने की स्थिति में 21 दिन के लिए होम क्वारंटाइन किया जाना है। इन व्यवस्थाओं के मद्देनजर जिला मजिस्ट्रेट ने ज्यादातर संख्या में आने वाले कामगारों/नागरिकों को जरूरी मेडिकल टेस्ट और खाने के बाद संक्रमण के लक्षण न पाये जाने की स्थिति में जिले में संचालित आश्रय स्थलों पर उपलब्ध वाहनों से सुरक्षित उनके गन्तव्य यानी मूल निवास को भेजा जा रहा है। वाहनों के संचालन में यह समस्या संज्ञान में लायी गयी है कि कुछ वाहनों के लॉकबुक सत्यापित न होने से उन्हें यात्रा के लिए तेल, पर्ची मिलने में दिक्कत हो रही है। यानी तेल व तेल पर्ची के सुगमता के लिए जिले में संचालित आश्रय स्थलों से सम्बन्धित जिले के सभी तहसीलदारों को आदेशित किया है कि वाहन चालकों को लॉकबुक उपलब्ध करायेंगें और लॉकबुक में अंकित यात्रा का सत्यापन के मुताबिक तेल पर्ची भी मुहैया करायेंगें। प्रवासियों को उनके घरों तक ले जाने के लिए रवाना होने वाली बसों/वाहनों के लॉकबुक पर यात्रा का विवरण सम्बन्धित उप जिलाधिकारी/तहसीलदार द्वारा अंकित कर यात्रा का सत्यापन किया जायेगा तथा तेल व पर्ची मुहैया करायी जायेगी।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!