राष्ट्रीयआजीविका मिशन के तहत महिला समूह ने किया जैविक खाद का निर्माण

धर्मेन्द्र गुप्ता (संवाददाता)

विंढमगंज । विकास खंड दुध्दी के अंतर्गत नवसृजित ग्राम धरतीडोलवा में सरोवर भिओ समिति के सभी कैडर और समूह की महिलाओं ने मिलकर जैविक खाद का निर्माण किया। कृषि सखी राधिका देवी के द्वारा खाद बनाया गया जिसको सभी कैडर मिलकर केंचुआ खाद बनाने के लिए प्रेरित किया गया।

मालूम हो कि सोनभद्र जिले में यह एक अनुभवी पहल की शुरुआत की गई है। कृषि उत्पादन, लागत की कमी के साथ जैविक खेती को बढ़ावा देने का प्रयास सफल होता नजर आ रहा है। सोनभद्र जिले के तहसील दुद्धी के ग्राम धरतीडोलवा द्वारा राष्ट्रीय आजीविका मिशन के तहत महिला समूह की भागीदारी से जैविक खाद का उत्पादन किया जा रहा है। खेतों में रासायनिक खाद का उपयोग कम होगा। खेत की उर्वरा शक्ति बनी रहेगी। जैविक स्वास्थ्य के लिए भी बेहतर होगा साथ ही रसायनिक खाद में कम खर्च होने वाली राशि भी बचत हो सकेगी। रासायनिक खाद का उपयोग नहीं करने का संकल्प के साथ समझौता समूह की महिलाओं ने उत्साह पूर्वक कार्य कर रहे हैं।

एक हाथ ऊंचे और 15 दिन पुराने गोबर के पुराने ढेर में 1 किलो केंचुआ छोड़ दिया जाता है ।समय-समय पर पानी का छिड़काव के बाद पूरा गोबर चाय की पत्ती के तरह बनकर हो जाता है। इस मौके पर बीएमएम मिथिलेश, भीवो बुक्कीपर रूपा गुप्ता तथा गांव के महिला समूह के सभी सदस्य उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!