…जब घर वालों ने अपने ही बच्चों को कर दिया स्कूल में क्वारन्टीन

संजय केशरी (संवाददाता)

गुरमुरा । कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए सरकार ने लॉक डाउन4 का एलान किया है। आर्थिक नुकसान व लोगों की परेशानी को देखते हुए सरकार ने भले ही कुछ रियायतें दी हो मगर खतरा अभी टला नहीं । अब तो ग्रामीण स्तर पर भी लोग जागरूक हो गए हैं । किसी अनजान को छोड़िए अब तो अपने ही गांव के रहने वाले प्रवासी मजदूरों को सीधे गांव में घुसने पर पाबंदी लगा रखी है । उनका कहना है कि प्रशासन द्वारा की जा रही पूरी प्रक्रिया से गुजरे बगैर गांव में प्रवेश वर्जित है । ऐसा ही मामला आज गुरमुरा क्षेत्र में देखने को मिला जहां छिकड़ाडाड़ में जयपुर से आये तीन की संख्या में प्रवासी मजदूरों को न सिर्फ गांव वाले बल्कि उनके खुद घर वाले सीधे घर में घुसने से मना कर दिया और गांव में बने स्कूल में सभी को क्वारंटिन कर दिया । घर वाले समेत गांव वाले चाहते हैं कि प्रशासन इन सभी प्रवासी मजदूरों की पूरी जांच करे ताकि महीनों से बाहर रहकर आये मजदुर अपने घर पर आ सकें।
आपको बता दूँ कि जिस तरह से कोरोना जैसे महामारी से पूरा देश जूझ रहा यह देखते हुए ग्रामीणों ने 1076 पर सूचना दे दी हैं। जिससे परिजनों सहित ग्रामीण भी इन मजदूरों के स्वास्थ्य के प्रति आश्वस्त हो जायेगें।

“ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसी जागरूकता को देखते हुए निश्चित रूप से कहा जा सकता है कोरोना जैसी महामारी से जीतेगी इंडिया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!