कोरोना से जंग में फाइव ‘पी’ फैक्टर

मनोहर कुमार ( वरिष्ठ संवाददाता)

– एल डी फोर का आरम्भ
पॉकेट, पैसा, पैकेज, प्रवासी व पॉलिटिक्

चन्दौली। कोरोना से जंग जीतने के लिए लॉक डाउन फेज फोर नये रंग रूप में सामने आ गया है।संक्रमण का दायरा बढ़ता जा रहा है। प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी है। 31 मई तक घरों में रहना है।छह फीट की फिजिकल दूरी बनाए रखनी है। तीसरे दौर के बाद राहत देने का दौर शुरू हुआ। कोरोना से जंग में फाइव ‘पी’ फैक्टर का प्रभाव भी दिख रहा है।पॉकेट, पैसा,पैकेज,प्रवासी व पॉलिटिक्स है।
संसार के अधिकांश देश के नागरिक इस समय कोरोना के संक्रमण से जूझ रहे है। विभिन देशों में लाखों लोग संक्रमित है।कई लोग इस बीमारी से असमय ही काल के गाल में समा गए।भारत मे भी संक्रमितों की संख्या 90 हजार के पार् चली गई। इसमें कुछ ठीक भी हुए हैं। देश में इस समय लॉक डाउन का दौर चल रहा है।लॉक डाउन फोर की शुरुआत हो गई है। कोरोना वायरस के चलते सबसे समस्या उतपन्न हुई है। इस परिधि में सबसे ज्यादा परेशान प्रवासी मजदूर हैं। विभिन्न राज्यों में कार्य करने वाले प्रवासी मजदूर लॉक डाउन के बाद पलायन कर रहे हैं।उन्हें श्रमिक स्पेशल ट्रेन से उन्हें घर भेजा जा रहा है।कहीं पैदल ही परिवार के साथ रवाना हो रहे हैं।
कोरोना से जंग में फाइव ‘पी’ फैक्टर दिख रहा है।
एल डी फोर का आरम्भ हो गया है।पॉकेट में लोगों के खाली हैं।काम का अभाव पैसा आ नहीं रह हैं।खर्च बढ़ रहे हैं।आमदनी गायब है। पैसा अब लोगों की आवश्यकता बन गई है।सरकार की ओर से राहत पैकेज की घोषणा की गई है।अब यह लोगो को कितना राहत पहुंचाएगी यह समय बताएगा। इस समय प्रवासी मजदूर घर की ओर पलायन कर रहे हैं।जिन्हें इस दौर में काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। इसके साथ ही पॉलिटिक्स का दौर भी शुरू हो गया है। सरकार के राहत पैकेज, इंतजाम, के साथ प्रवासी मजदूरों की वापसी पर पॉलिटिक्स चलनी शुरू हो गई है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!