क्वारंटाइन सेंटर में भूत का डर, भागे प्रवासी मजदूर

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही (ब्यूरो)

ग़ाज़ीपुर । इंसान किस किस चीज़ से बचे, इस वक़्त तो सबसे ज़्यादा डर कॅरोना का है, उस पर से भूत का भी डर कुछ लोगों का सताने लगा है। सादात क्षेत्र के हुरमुजपुर गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय में क्वारंटाइन किए गए एक दर्जन प्रवासी मजदूर गुरुवार की रात में भूत के डर से विद्यालय से भाग खड़े हुए। रात भर इधर-उधर भटकने के बाद शुक्रवार को उन्हें पूर्व माध्यमिक विद्यालय मझौली में क्वारंटाइन किया गया। उक्त विद्यालय में करीब एक दर्जन प्रवासी लोगों को क्वारंटाइन किया गया था। उसमें से कुछ को रात में भूत का डर समा गया तो आठ लोग वहां से भाग निकले। बचे तीन चार घर चले गए। इधर, हुरमुजपुर गांव में काफी संख्या में प्रवासी गांववासियों के आने से पंचायत भवन, प्राथमिक विद्यालय बक्सूपूर व पूर्व माध्यमिक विद्यालय भर गया है। प्रधान प्रतिनिधि लालचंद चौहान ने प्रवासियों के रहने के लिए उपजिलाधिकारी जखनियां सूरज कुमार यादव बात की। क्वारंटाइन के लिए गांव में स्थित एक इंटरमीडिएट कालेज में व्यवस्था करने की मांग की।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!