जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कोरोना संकट से बचाव हेतु गठित की गई निगरानी समिति के कार्यो की समीक्षा वैठक गांधी प्रेक्षागृह में हुई सम्पन्न

दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो

पीलीभीत। जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव द्वारा जनपद की समस्त ग्राम पंचायतों के ग्राम प्रधान की अध्यक्षता में ,ग्राम सचिव,लेखपाल, आशा, आगंनवाडी कोटेदार आदि की समिति का गठन किया गया है जो लेागो को कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु जागरूक करने एवं बाहर से आने बाले लोगो के बारे मे निगरानी रखी जाती है आज आयोजित वैठक में जिलाधिकारी द्वारा जनपद के समस्त उपजिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी, अघिशासी अधिकारी व ग्राम प्रधानो को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में प्रवासी मजदूर अधिक संख्या मे आये हुए है और जिनको स्वास्थ परीक्षण के बाद होम कोरंनटाईन किया गया है ऐसे लोगो को होम कोरांटाइन नियमों का पालन कराने हेतु निगरानी समिति के सदस्यों द्वारा नियमित निगरानी रखी जानी है और साथ ही साथ समस्त ग्राम पंचायतो में युवक मंगल दल के माध्यम से बाहर से आने बाले लोगो पर निगरानी रखी जानी है उन्होने कहा कि सभी ग्राम प्रधानों का यह पूर्ण दायित्व है कि इस माहमारी से अपने ग्राम को सुरक्षित रखें।
यह तभी सम्भव है जब बाहर से आने बाले प्रवासी मजदूरों की सूचना प्रशासन को तत्काल उपलब्ध करायें और साथ ही साथ जो प्रवासी मजदूर होम क्वारंटाइन किये गये हैं वह उसका नियमता पालन करें यदि किसी मजदूर को खांसी जुकाम जैसी समस्या आती है तो तत्काल प्रशासन को अवगत करायें। समिति के द्वारा कोरांटाइन किये गये प्रवासियों के परिवार को अवगत कराया जाये कि वाहर से आये व्यक्ति को अलग रहने की व्यवस्था की जाये और 21 दिन तक उससे दूरी बनाये रखे, निगरानी समिति द्वारा प्रवासी मजदूरों व गांव में अधिक से अधिक लोगों को आरोग्य ऐप मोवाईल में अपलोड करायें ।
आयोजित वैठक में अपर मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा निगरानी समिति के कार्यो पर प्रकाश डालते हुए कहा कि निगरानी के सदस्य आशा एवं आंगनवाडी को नियमित कोरांनटाईन किये गये लोगो की स्वास्थ के बारे में निगरानी रखी जायेगी और परिवार के लोगों को नियमित साफ सफाई व मास्क का प्रयोग करने हेतु सलाह दें ।
आज आयोजित वैठक में जनपद के नोडल अधिकारी विशेष सचिव श्रम पी0पी0 सिंह द्वारा जनपद में कोरोना के सक्रंमण के बचाव हेतु किये जा रहे कार्यो की सराहना की गयी और साथ ही साथ समस्त उप जिलाधिकारियों व अन्य अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि संचालित समुदाययिक रसोईयों में साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा जायें और वहाँ कायर्रत लोगो को नियमित मास्क का प्रयोग करें तथा सेंन्टर होम में खाने के मीनू व समय पर विशेष ध्यान रखा जाये तथा निर्धारित मानकों के अनुरूप समस्त कार्य सम्पन्न किये जायें ।नोडल अधिकारी द्वारा यह भी निर्देशित किया गया कि अपने क्षेत्र में जो भी श्रमिक श्रम विभाग में पंजीकृत हैं तो उनको सरकार द्वारा संचालित योजना का लाभ प्रदान किया जाये ।
आयोजित वैठक में पुलिस अघीक्षक द्वारा लाकडाउन अनुपालन के सम्बन्ध में निर्देशित करते हुए कहा कि समस्त चौकियों पर निगरानी की जाये यदि कोई मजदूर पैदल जाते हुए दिखे तो तत्काल आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जाये वाहनों का प्रयोग विशेष परिस्थतियों में ही किया जाये । दुकानों पर सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन सुनिश्चित किया जाये तथा कोई भी ग्राहक बिना मास्क के दुकान पर खरीददारी न करते हुए पाया जाये ।
वैठक में नोडल अधिकारी विशेष सचिव, श्रम, पी0पी0सिंह पुलिस अघीक्षक अभिषेक दीक्षित,, मुख्य विकास अधिकारी श्रीनिवास मिश्र, अपर जिलाधिकारी वित्त अतुल सिंह, अपर जिलाधिकारी न्यायिक देवेन्द्र प्रताप मिश्र, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 सीमा अग्रवाल, जिला विकास अधिकारी समस्त उपजिलाधिकारी, समस्त पुलिस क्षेत्राधिकारी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी, थानाघ्यक्ष सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!