पैदल चलकर आने वाले मजदूरों पर दिया जाय विशेष ध्यान : प्रभारी मंत्री

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिले के प्रभारी मंत्री/प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ0 सतीश चन्द्र द्विवेदी ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से देते हुए कहा कि प्रदेश की लोकप्रिय सरकार महामारी की स्थिति में सोनभद्र जिले के नागरिकों के साथ है। सभी प्रकार की सहुलियतें लॉक डाउन व सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मुहैया करायी जा रही है। किसी भी हाल मेंं जिले का कोई नागरिक खाना/खाद्यान्न के बिना न रहने पायें। जिले में मनरेगा के तहत स्थानीय रोजगार, स्कूल कायाकल्प के तहत स्कूलों का कायाकल्प, शौचालय निर्माण के साथ ही बड़ी परियोजनाओं को भी सोशल डिस्टेंसिंग के साथ क्रियाशील रखा जाय। गैर प्रदेशों व गैर जनपदों से आने वाले मजदूरों/नागरिकों पर कड़ी निगाह रखी जाय और समयबद्ध तरीके से उन्हें गंतव्यों के लिए रोडवेज की बसों से रवाना किया जाय। जिला प्रशासन महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए सभी कारगर कदम उठायें।

प्रभारी मंत्री ने जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम, पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव, मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बाहदरु सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एस0के0 उपाध्याय, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ0 पी0बी0 गौतम, डिप्टी कलेक्टर रमेश कुमार, बीएसए डॉ0 गोरखनाथ पटेल आदि के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।प्रभारी मंत्री ने सोनभद्र सीमा के अन्दर अन्य प्रदेशों व जिलों के मजदूरों/नागरिकों पर निगाह रखने व आने के तत्काल बाद स्वास्थ्य परीक्षण कराकर तत्काल गंतव्य के लिए रवाना कराने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि पैदल चलकर आने वाले मजदूरों पर विशेष ध्यान दिया जाय। जिले की सीमा सुरक्षा बढ़ायी जाय। अन्तर्राज्यीय प्रवेश स्थानों पर व्यक्ति व वाहनों की गहन जाच की जाय। गांव स्तर की निगरानी समिति के माध्यम से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाय। कम्युनिटी किचन को जरूरत के मुताबिक जरूरतमंदों को खाना उपलब्ध कराया जाय। राशन किट उपलब्ध कराये जाये, मनरेगा के काम करने वाले मजदूरों व कार्मिकों, स्कूल कायाकल्प कार्य में लगे मजदूरों, राजगीरों, अध्यापकों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए सेनिटाइजर व मास्क का प्रयोग करने पर विशेष ध्यान दिया जाय। जिले में निर्माणाधीन प्रधानमंत्री आवास सहित अन्य आवासों, शौचालयों में लगे राजगीरों व मजदूरों के साथ ही कार्मिकों से सोशल डिस्टेंसिंग व व्यक्तिगत सफाई का पालन कराया जाय। राशन वितरण में भी सोशल डिस्टेंसिग का पालन कराया जाय। प्रभारी मंत्री ने बारी-बारी से सभी अधिकारियों से समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।

वी0सी0 में मौजूद जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए क्वारंटाइन सेन्टर क्षमता, कम्युनिटी किचन, राशन किट का वितरण, राशन वितरण, कन्टेन्वल प्लान, लेबिल-1, लेबिल-2 हास्पिटल, जिला कन्ट्रोल रूम, मनरेगा के कार्य, स्कूल कायाकल्प के कार्य, सेनिटाइजेशन, मास्कों की उपलब्धता, आवास निर्माण, शौचालय निर्माण, ग्राम स्तर पर गठित निगरानी समिति, होम क्वारंटाइन, जिले से लगे चारों प्रदेशों की सीमा सुरक्षा, बाहरी प्रदेशों से आने वाले मजदूरों/नागरिकों के स्वास्थ्य परीक्षण व उनके गंतव्यों तक पहुंचाने आदि की विस्तार से जानकारी दी। जिस पर प्रभारी मंत्री द्वारा संतोष व्यक्त करते हुए सोनभद्र जिले को ग्रीन जोन बनाये रखने की अपेक्षा की।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!