गुड़गांव में प्रशिक्षण के लिए गए छात्र छात्राएं लॉक डाउन में फंसे

अबुलकैश डब्बल ब्यूरो
* सात छात्राएं भी है शामिल
* सांसद भी नही कर पा रहे मदद, परिजन परेशान

चंदौली। कौशल विकास प्रशिक्षण के लिए गुड़गांव में गए कुल बीस छात्र छात्राएं लॉक डाउन के कारण तभी से फंसे हुए हैं। जिसमे सात छात्राएं भी शामिल हैं। बताया जाता है कि दीं दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल विकास योजना के तहत जनपद के हिंगुतरगढ़, तोरवा, एवती, हाशिपुर, बड़ौरा, बेलवानी, मथेला आदि दर्जनों गांव से लगभग बीस बच्चे दो महीने चंदौली प्रशिक्षण के बाद एक महीना बंगलौर प्रशिक्षण किये इनके बाद उन्हें छः महीने प्रशिक्षण के लिए गुड़गांव भेज दिया गया जहां वह लॉक डाउन के कारण फसे हुए हैं। जिससे जहां बच्चे परेशान हैं वहीं उनके परिजन भी उनको लेकर चिंतित दिखाई दे रहे हैं। हिंगुतरगढ़ निवासी अभिभावक दयाशंकर यादव ने बताया कि सभी बच्चे सेक्टर 18 सरौल, गुरुग्राम गुड़गांव में हैं जो परेशान होकर प्रतिदिन फोन कर रहे हैं। जिसको लेकर चन्दौली सांसद एवं कौशल विभाग के केंद्रीय मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय के निजी सहायक से भी गुहार लगाई गई लेकिन अभी तक बच्चों को वापस लाने का रास्ता नही बन पाया। एक तरफ सरकार जहां कोटा से अमीरों के बच्चों को अपने खर्चे से वापस लायी वहीं दूरी तरफ गांव के गरीब बच्चों के लिए कोई रास्ता नही बन पा रहा है यह सोचने का विषय है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!