जितनी मिली आजादी उतने लापरवाह हो गए लोग

मनोहर कुमार (संवाददाता)
– लॉक डाउन थ्री में नियमों की हो रही अनदेखी

डीडीयू नगर। कोरोना वायरस का संक्रमण तेज होता जा रहा है।इसके संक्रमण को रोकने के लिए लॉक डाउन किया गया है।लॉक डाउन फेज थ्री में कुछ रियायतें मिली हैं।इस आजादी का अब लोग बेजा इस्तेमाल कर रहे हैं।संक्रमण के फैलने से बेखबर लोग पर्सनल डिस्टेंसिंग का भी मान नहीं रख रहे।तय मानकों का पूरा उलंघन किया जा रहा है। प्रशासन भी पहले जैसा सख्ती नहीं दिखा रहा है।लोग सार्वजनिक स्थानों पर भी थूकने से गुरेज नहीं कर रहे। नियमोँ के उल्लंघन पर जुर्माना का भी लोगों को डर नहीं है।
इस समय कोरोना वायरस के संक्रमण से संसार के अधिकांश देश में हाहाकार है।135 करोड़ आबादी वाला देश भारत भी इस संक्रमण से जूझ रहा है।प्रतिदिन संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है।देश संक्रमितों की संख्या 60 हजार के करीब पहुंच गई है।इसमें दो हजार लोग असमय ही मारे गए।वहीं कुछ लोग उपचार से ठीक हो रहे हैं।इस संक्रमण से उबरने के लिए सरकार ने देश को लॉक डाउन मोड़ में ला दिया है।इस समय लॉक डाउन का फेज थ्री चल रहा है।इस फेज में संक्रमितों के आधार पर बांटे गए ग्रीन,औरेंज व रेड जोन में आर्थिक गतिविधियों को चलाने के लिए रियायतें दी है।इसके लिए मानक तय किये गए हैं।मानकों में लोगों को मास्क लगाना अनिवार्य है।सोसल व पर्सनल डिस्टेंसिंग बनाये रखनी हैं।अनावश्यक रुप से बाजार में नहीं निकलने हैं ।सार्वजिनक स्थानों नहीं थूकना है।राहत की बात है कि धान के कटोरे के रुप में विखयात चन्दौली में कोरोना संक्रमित एक भी मरीज नहीं हैं।इस जिले को ग्रीन जोन के दायरे में रखा गया है। लॉक डाउन फेज थ्री में तय मानकों का माखौल उड़ाया जा रहा है।मिले इस आजादी का दोहन कर रहे हैं।लापरवाही इस कदर हावी है कि लोग सोशल व पर्सनल डिस्टेंसिंग को भूल गए है।एक बाइक पर तीन तीन लोग भी घूम रहे है।सार्वजनिक स्थानों पर भी थूक रहे है।दो गज की दूरी जरूरी का फार्मूला भी फेल है।कहीं मिली इस आजादी में कई जा रही लापरवाही कोई नया गुल न खिला दे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!