प्रभारी मंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के वरिष्ठ अधिकारियों संग की समीक्षा बैठक

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । आज जिले के प्रभारी मंत्री/प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री-स्वतंत्र प्रभार डॉ0 सतीश चन्द्र द्विवेदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सोनभद्र जिले के जनप्रतिनिधियों, जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की।

इस दौरान उन्होंने कहा कि “प्रदेश की लोकप्रिय सरकार महामारी की स्थिति में सोनभद्र जिले के नागरिकों के साथ है। सभी प्रकार की सहुलियतें लॉक डाउन व सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मुहैया करायी जा रही है। किसी भी हाल मेंं जिले का कोई नागरिक खाना/खाद्यान्न के बिना न रहने पायें। जिले में शौचालय के निर्माण के साथ ही बड़ी परियोजनाओं को भी सोशल डिस्टेंसिंग के साथ क्रियाशील किया जाय। उद्योगों को भी भारत सरकार के निर्देशानुसार चालू किया जाय। क्वारंटाइन सेन्टरों को बेहतर तरीके से संचालित किया जाय और क्वारंटाइन सेन्टर में रहने वाले मजदूरों/नागरिकों को खाना, पानी, दवा, सोने आदि की बेहतर व्यवस्था मुहैया करायी जाय। उन्होंने कहा कि जिले में लागू लॉक डाउन की व्यवस्था को सुनिश्चित कराया जाय और उन्होंने कहाकि में सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन कराते हुए मानक के अनुरूप सभी सुविधाएं नागरिकों को मुहैया करायी जाय।”

मंत्री ने सामुदायिक किचन के माध्यम से जरूरतमंदों को पका-पकाया खाना मुहैया कराने के निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जरूरतमंदों में सभी तरह से राशन की सामग्रीयुक्त राशन किट उनके घरों तक पहुंचाया जाय। लॉक डाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं की होम डिलेवरी की जाय। मंत्री ने कहा कि किसानों से सम्बन्धित कार्यों को पूरा कराने में मदद की जाय और कटाई, मड़ाई में लगे मजदूरों से भी सोशल डिस्टेंसिंग आदि का पालन कराया जाय। उन्होंने कहा कि नियमानुसार जिले की खनन गतिविधियों को लॉक डाउन के अनुरूप चालू किया जाय। उन्होंने कहा कि जिले में लक्षित स्वच्छ शौचालय का निर्माण किया जाय। सार्वजनिक स्थानों, कार्यालयों, क्वारंटाइन के उपयोग में आने वाली रोडवेज की बसों की साफ-सफाई व बेहतर सेनिटाइजेशन कराया जाय। सभी कार्यालयों में हैण्डवास के लिए साबुन व पानी की व्यवस्था करायी जाय। उन्होंने कहा कि जान है, तो जहान है, हर हाल में पहले जान की हिफाजत की जाय। मंत्री ने कहा कि जिला कन्ट्रोल रूम में प्राप्त होने वाली शिकायतों का निस्तारण युद्ध स्तर पर लगकर किया जाय और जरूरतमंदों मेंं जरूरत के मुताबिक पका-पकाया भोजन, राशन किट मुहैया करायी जाय। उन्होंने कहा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत महीने में दो बार निःशुल्क खाद्यान्न नागरिकों में मुहैया कराने के साथ ही जरूरी-जरूरतों को पूरा करने के निर्देश सम्बन्धितों को दिया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!