लॉकडाउन के बीच मनरेगा काम चालू होने से मजदूर खुश

विनोद कुमार (संवाददाता)

– सोशल डिस्टेंस का हो रहा पालन* *प्रवासी मजदूरों के कारण कार्य स्थल पर उमड़ रही भीड़

शहाबगंज । कोविड-19 से निपटने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के कारण रोजी रोजगार छीन गया। वहीं प्रवासी मजदूरों के आने से रोजगार की विकट समस्या पैदा हो गयी। इन्हीं समस्याओं को देखते हुए कि ग्रामीण मजदूरों को किसी प्रकार की परेशानी न हो उन्हें गाँव में ही काम मिले इसके लिए सरकार ने मनरेगा का काम शुरू कराने का आदेश जारी कर दिया है। लॉकडाउन में रोज कमाने और खाने वाले मजदूरों की गड़बड़ा चूकी बजट को दुरुस्त करने के लिए, मनरेगा कार्य शुरू होने से मजदूरों को गांव में ही रोजगार मिलेगा जिससे उनके जीवन-यापन में
सुविधा मिलेगी। मनरेगा कार्य प्रारम्भ होते ही कार्य स्थल पर मजदूरों की भारी भीड़ जूट जा रही है। जहां सोशल डिस्टेंस का पालन कराना भी सचिव, प्रधान के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रही है। विकास क्षेत्र में अताय, तियरा, लटांव, अरारी, पालपुर, बनरसिया, मुसाखाड़, ढोढ़नपुर, छित्तमपुर, मलहर सहित दर्जनों गांव में मनरेगा का कार्य बड़े चालू हो गया है। वहीं गांव में ही काम मिलने से मजदूरों के चेहरे खिल उठे है। मनरेगा उपायुक्त व प्रभारी बीडीओ धर्मजीत सिंह ने कहां कि शासन से आदेश मिलने के बाद मनरेगा का कार्य प्रारम्भ करा दिया गया है। जिससे गांव में ही मजदूरों को काम मिल सके। वहीं कोरोना के मद्देनजर सोशल डिस्टेंस का भी ध्यान रखा जायेगा।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!