पुस्तक विक्रेता किसी भी रूप में दुकान पर किसी अन्य सामग्री की बिक्री न करें- डीएम

दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो

पीलीभीत । गृह मंत्रालय, भारत सरकार के आदेश संख्याः40-3/2020- दिनांक 21 अप्रैल 2020 के द्वारा छात्रों के लिए शैक्षिक पुस्तकों के लिए दुकानों को लाॅक-डाउन से छूट प्रदान की गयी है। तत्क्रम में अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0), पीलीभीत के आदेश पत्र संख्या 1070/आ0लि0-2020 दिनांक 23 अप्रैल 2020 को अतिक्रमित करते हुये, कोरोना संक्रमण के कारण लाॅड-डाउन के नियमों के अधीन प्रक्रिया के अन्तर्गत छात्रों को पुस्तकें उपलब्ध कराने की व्यवस्था हेतु अनुमति प्रदान की जाती है।
उक्त पत्र के क्रम में विद्यालयों के द्वारा अपने पाठ्यक्रम में कोई परिवर्तन नहीं करेंगे और गत वर्ष के पाठ्यक्रम के आधार पर ही शिक्षण कार्य करायेगें, जिससे छात्रों को कोई असुविधा न हो और उन्हें पुस्तकों की उपलब्धता सुगम हो सके। पुस्तक विक्रेता सम्बन्धित विद्यालय के पाठ्यक्रम के अनुसार पुस्तक-पुस्तिकाओं के पूर्ण सेट तैयार करेंगे। तदुपरान्त उसके मूल्य के विवरण के साथ अपनी दुकान का पूर्ण पता, मोवाइल नम्बर, ई-मेल आईडी व जी0एस0टी0 नम्बर आदि को समाचार पत्र अथवा अन्य प्रचार माध्यमों से अभिभावकों को सूचित करेंगे और क्रयादेश प्राप्त करेंगे। पुस्तक विक्रेता प्राप्त क्रयादेश के अनुसार अभिभावकों के पते के अनुसार क्षेत्रवार सुरक्षित वाहन से पुस्तकों की डोर-टू-डोर आपूर्ति करेंगे। पुस्तक विक्रेता पुस्तकों की आपूर्ति के पूर्व पुस्तकों आदि के पैकेट, वाहन और आपूर्तिकर्ता ड्राइवर आदि को लाॅक-डाउन के नियमों के अनुसार पूरी तरह से सैनिटाइज करेंगे और पैकेट पर इस आशय का प्रमाण पत्र भी संलग्न करेंगे। पुस्तक विक्रेता पुस्तकों आदि की आपूर्ति की संभावना के अनुसार नगर मजिस्ट्रेट, पीलीभीत को आवेदन करेंगे और आवेदन में वितरण किये जाने हेतु क्षेत्र का स्पष्ट उल्लेख करेंगे। अभिभावकों के द्वारा पुस्तक विक्रेता की उपलब्धता के अनुसार पुस्तकों के क्रयादेश उनके मोबाइल अथवा ई-मेल पर उपलब्ध करायेंगे और अभिभावक भी अपने आदेश में अपने पूर्ण पता, मोबाइल नम्बर आदि का उल्लेख करेंगे। आपूर्ति के समय ही भुगतान की भी तैयारी किये रहेंगे। पुस्तक विक्रेता किसी भी रूप में दुकान पर किसी सामग्री की बिक्री नहीं करेगे अन्यथा उनके लाइसेंस को निरस्त करने, दुकान को सील करने के साथ ही विक्रेता के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करने की कार्यवाही की जायेगी।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!