किसानों को नहीं मिला क्षतिपूर्ति, बीमा कंपनी पर जिला प्रशासन सख्त

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना व फसल ऋण मोचन योजना के अन्तर्गत 882 लोगों का क्षतिपूर्ति न देना बीमा कम्पनी के लापरवाही का सबूत है। किसान भाईयों के साथ उपेक्षा करने वाली बीमा कम्पनी के कार्य एवं आचरण की जॉच की जाय और कमियाँ पाये जाने पर बीमा कम्पनी को ब्लैक लिस्टेड करने की कार्यवाही की जाय। बैंकर्स फसल ऋण मोचन योजना का लाभ किसानों को पहुंचाने में सकारात्मक मदद करें। उक्त निर्देश जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने बैंकर्स व प्रधानमंत्री फसल बीमा से सम्बन्धित बीमा कम्पनी के पदाधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में दिया। जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि 882 किसानों की बीमा क्षतिपूर्ति न दिया जाना आपत्तिजनक है, लिहाजा जिन वजहों से बीमा क्षतिपूर्ति नहीं दी गयी है। उस प्रकरण का जॉच करायी जाय और कमी पाये जाने पर बीमा कम्पनी के खिलाफ कार्यवाही के लिए पत्राचार किया जाय। उन्होंने फसल ऋण मोचन योजना के कार्यों में बैंकर्स रूचि लें और बेहतर तरीके से योजना का लाभ किसानों को दिलाने में सकारात्मक सोच रखें।

बैठक में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम के अलावा, मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह, डिप्टी कलेक्टर रमेश कुमार, जिला विकास अधिकारी रामबाबू त्रिपाठी, उप निदेशक कृषि डी0के0 गुप्ता, एलडीएम सूर्यदत्त संतोषी, जिला कृषि अधिकारी पीयूष राय, जिला सहायक निबन्धक सहकारी समितिया टी0एन0 सिंह, बैंकर्सगण आदि मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!