लॉकडाउन के दौरान थकान और सुस्ती घेर लेती है, इन 6 चीजों को लेना करें शुरू करें

कोरोना वायरस महामारी के संकट को देखते हुए देश में लॉकडाउन की घोषणा की गई है और लोग ऑफिस का काम घर से ही कर रहे हैं। परेशानी यह है कि घर में ऑफिस जैसा माहौल नहीं होता है और काम में आलस्य आ आता है। कभी-कभी काम में बिल्कुल मन नहीं लगता है। इस दौरान, थकान और सुस्ती घेर लेती है, जिसकी वजह से काम पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। ऐसे में जरूरी है कि आलस्य से छुटकारा पाएं।

www.myupchar.com से जुड़े ऐम्स के डॉ. उमर अफरोज का रहना है कि सबसे बेहतर विकल्प है रूटीन फॉलो करना। अपने रूटीन के हिसाब से चीजें करेंगे तो काम बेहतर तरीके से होगा। घर से काम कर रहे हैं तो भी अच्छे कपड़े पहनकर तैयार होकर बैठे। यह सब दिमाग का खेल है। अगर घर के कमरों में बैठेंगे तो दिमाग काम के लिए तैयार नहीं होगा।

www.myupchar.com की डॉ. मेधावी अग्रवाल का कहना है कि थकान, सुस्त और कम एनर्जी महसूस करते हैं तो खाने की आदतों पर ध्यान देना चाहिए। खाने की सही आदतों से कई तरह के रोग होने की आशंका बढ़ जाती है। पौष्टिक आहार से शरीर को पोषक तत्व मिलते हैं, जिससे शरीर सही तरह से काम कर पाता है। यहां 6 ऐसी चीजों के बारे में बता रहे हैं, जिनके इस्तेमाल से सुस्ती दूर हो जाएगी।

दही:
दही में कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन जैसे कारक होते हैं। वे ऊर्जा के प्रभावी स्रोत हैं। इसके कारण शरीर में ऊर्जा का आदान-प्रदान होता है। खासतौर पर बिना क्रीम वाले दही का सेवन करने से यह थकान और सुस्ती को दूर करता है।

सौंफ:
सौंफ को केवल रसोई के मसाले और माउथ फ्रेशनर के रूप में जानते हैं। लेकिन इसके अलावा, इनमें और भी कई गुण छिपे हुए हैं। सौंफ में आयरन, कैल्शियम, सोडियम और पोटैशियम होता है, जो शरीर की सुस्ती को दूर करने में मदद करता है।

ग्रीन टी:
कई बार ज्यादा काम करने पर तनाव और थकान दोनों का सामना करना पड़ता है। अगर ऐसा होता है तो इस दौरान ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए। ग्रीन टी न केवल शरीर को ऊर्जा देती है, बल्कि यह एकाग्रता को बढ़ाने में भी मदद करती है।

www.myupchar.com के डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि दिमाग को ठीक ढंग से काम करने के लिए स्वस्थ रक्त वाहिकाओं की जरूरत होती है। ग्रीन टी में मौजूद बायोएक्टिंग कम्पाउंड्स के कारण न्यूरॉन्स पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

जई का दलिया (ओटमील):
ओटमील कार्बोहाइड्रेट और ग्लाइकोजन में समृद्ध है। इसे खाने से पूरे दिन शरीर में ऊर्जा का अनुभव होता है। यह एक पौष्टिक आहार है और शरीर के लिए फायदेमंद है।

पानी, जूस और अन्य पेय:
यदि शरीर में पानी की कमी है, तो सुस्ती भी होती है। बेहतर होगा कि थोड़े-थोड़े अंतराल पर जूस, पानी और अन्य पेय पदार्थों का सेवन करते रहें।

चॉकलेट:
काम के दौरान कई बार मूड अलग-अलग कारणों से खराब हो जाता है और जब तक मूड ठीक नहीं हो जाता है, तब तक किसी भी काम में मन नहीं लगता है। इस मामले में चॉकलेट एक अच्छा विकल्प है। चॉकलेट में मौजूद कोको शरीर की मांसपेशियों को आराम देता है और तरोताजा करता है। फैटी एसिड जैसे स्टैरिकिक एसिड और पाल्मिक एसिड और ओलिक एसिड कोलेस्ट्रॉल जमा होने के जोखिम के बिना, वजन को कम करके ऊर्जा प्रदान करते हैं। चॉकलेट में चीनी भी ऊर्जा और शरीर को आराम देती है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!