सामान्य मामूली बीमारियां के लिए जानें घरेलू उपचार


कोरोना वायरस महामारी के कारण लॉकडाउन है और लोगों को घर पर रहने के लिए मजबूर होना पड़ा। कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है और कई अस्पतालों को अन्य मरीजों के इलाज के लिए डॉक्टरों की कमी का सामना करना पड़ रहा है। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अस्पतालों में भीड़ को देखते हुए और बीमारी को अधिक लोगों में फैलने के जोखिम की वजह से घर पर ही मामूली बीमारियों का इलाज बेहतर है। कई डॉक्टर लॉकडाउन के दौरान लोगों की मदद के लिए ऑनलाइन सेवाएं भी दे रहे हैं। कई सामान्य शिकायतों का इलाज बिना डॉक्टर की सलाह के घर पर ही किया जा सकता है। यहां कुछ सामान्य मामूली बीमारियां और उनके घरेलू उपचार दिए गए हैं।

सर्दी खांसी के लिए अदरक:
www.myupchar.com के डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि अदरक सर्दी और खांसी के लिए एक प्रभावी घरेलू उपाय है। यह एक प्राकृतिक एनाल्जेसिक और दर्द निवारक है, इसलिए इसे गले के दर्द और जलन को शांत करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। अदरक का इस्तेमाल खांसी कम करने में भी कर सकते हैं। यह फेफड़ों से बलगम को खत्म करने में मदद करती है जो खांसी से राहत दिलाता है। अदरक की बनी हुई चाय का सेवन कर सकते हैं। या फिर अदरक को छोटे स्लाइस में काटें और इन्हें पीस लें। एक कप पानी में डालकर उबाल लें। इसमें नीबू का रस और शहद मिला सकते हैं। इससे गले में खराश और लगातार खांसी से राहत मिलेगी।

पेट दर्द से आराम दिलाता है चावल का पानी:
www.myupchar.com से जुड़ीं एम्स की डॉ. वीके राजलक्ष्मी का कहना है कि पेट में दर्द कई अलग-अलग कारकों के कारण हो सकता है। इसमें अपच, कब्ज, अत्यधिक गैस आदि शामिल हैं। हालांकि, पेट में दर्द अधिक गंभीर स्थितियों के कारण भी हो सकता है जैसे हर्नियां, किडनी स्टोन, यूरिन इन्फेक्शन, अपेंडिसाइटिस या अल्सर। पेट दर्द से निपटने के लिए चावल के पानी का इस्तेमाल किया जा सकता है। पेट में दर्द हो तो हमेशा नरम भोजन करना चाहिए और चावल का पानी नरम भोजन में आता है। यह पेट दर्द को शांत करता है। सूजन और गैस को भी दूर करता है। एक बर्तन में छह कप पानी लेकर उबाल लें। फिर इसमें आधा कप चावल डाल दें और ढककर उबाल दें। चावल नरम हो जाएं तो इसे छान लें। ठंडा होने पर इसके पानी में शहद डाल लें। इस मिश्रण को दिन में दो बार पिएं।

सिरदर्द या माइग्रेन के लिए मालिश:
www.myupchar.com से जुड़े एम्स के डॉ. नबी वली का कहना है कि माइग्रेन एक प्रकार का सिरदर्द है, जिसमें सिर के दोनों या एक ओर रुक-रुककर भयानक दर्द होता है। यह दर्द 2 घंटे से लेकर कई दिनों तक बना रहता है। माइग्रेन के समय दिमाग में खून का संचार बढ़ जाता है, जिससे तेज सिरदर्द हो जाता है। माइग्रेन से राहत पाने के लिए सबसे बेहतर घरेलू उपाय है मालिश। यह एक असरदार तरीका है जो कि मस्तिष्क में दर्द के संकेतों को रोककर दर्द को दूर करता है। तिल का तेल लें, उसे थोड़ा गर्म करें और आधे घंटे के लिए सिर से इस तेल की मालिश करें। यह तनाव कम करेगा। इसके अलावा पेपरमिंट ऑयल के साथ भी सिर की मालिश कर सकते हैं।

कोरोना वायरस के लिए इन लोगों को जरूरी है मेडिकल हेल्प :
www.myupchar.Com से जुड़े एम्स के डॉ. अजय मोहन का कहना है कि कोरोना वायरस के सबसे आम लक्षण बुखार, थकान और सूखी खांसी हैं। कुछ रोगियों में दर्द, नाक बहना, गले में खराश या दस्त हो सकते हैं। ये लक्षण आमतौर पर हल्के होते हैं और धीरे-धीरे शुरू होते हैं। वायरस से संक्रमित कुछ लोग किसी भी लक्षण को विकसित नहीं कर सकते हैं और अस्वस्थ महसूस नहीं करते हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!