जौनपुर क्वारेन्टाइन से लौटे 8 युवकों के अलावा 39 परिजनों को किया गया क्वारेन्टाइन

पी0के0 विश्वकर्मा (संवाददाता)

● कोन क्षेत्र के दो गांव सील प्रशासन का कड़ा पहरा

● क्षेत्रवासियों ने रिपोर्ट आने का बेसब्री से इंतजार

कोन । गुरुवार को कोन क्षेत्रवासियों में उस समय हडकंप मच गया जब तमाम अधिकारियों की गाड़ियां भारी फोर्स के साथ गिधिया व सलैयाडिह गांव की तरफ रुख किये । लोगो को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था । लेकिन यह तय था कि जिस तरीके से गाड़ियां फर्राटे भर रही थी कोई न कोई मामला बड़ा ही है । लोग अपने-अपने सूत्रों से पता करने में जुट गए और बाद में पता चला कि जीका प्रशासन जौनपुर क्वारेन्टाइन सेंटर से आये युवकों की तलाश करने में लगी है । सभी में यह जानने की उत्सुकता देखी जा रही थी कि आखिरकार हुआ क्या? बहुत देर बाद अधिकारियों से पता चला कि सलैयाडिह में दो व गिधिया में छ: युवक जौनपुर क्वारेन्टाइन से 14 दिन रहने के बाद वापस अपने आ रहे है। ये सभी जौनपुर में जिनके साथ रहे वह दिल्ली का युवक था, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव निकल गयी । इसकी जानकारी भी सोनभद्र प्रशासन को जिलाधिकारी जौनपुर के पत्र से हुआ । हालांकि अधिकारियों ने बताया कि ये सभी आठों एसोम्टोमेटिक है, इनलोगों में कोरोना के लक्षण नही पाये गये है। परन्तु सम्पर्क में आये एक युवक का पॉजिटिव रिपोर्ट आने के कारण जिला प्रशासन ने सतर्कता बरते हुये सभी आठों को जिला अस्पताल ले गयी और वहां क्वारेन्टाइन सेंटर में रखा है ।

जानकारी के अनुसार गिधिया के छ: युवकों को प्रशासन ने घर पहुचने से पहले ही पकड़ लिया था वही सलैयाडिह के दोनों युवक घर पहुंच चुके थे। जिसके कारण दोनों युवकों के संपर्क में आये 39 लोगों को भी अधिकारियों ने चिंहित कर चोपन में ऐतिहातन क्वारेन्टाइन कर दोनों गांवों को सील कर दिया । उक्त दोनों गांवों में आवागमन पर पूरी तरह रोक लगा दी गयी है । यह पूरी सूचना पूरे क्षेत्र में आग की तरह फैल गयी है। सभी लोगों बस यही दुआ मांग रहे हैं कि हे भगवान सभी की रिपोर्ट नगेटिव ही आये। जिसका लोगों मे बेसब्री से इंतजार है।
जिला प्रशासन ने उक्त गांवों में पूरे इंतजाम के साथ निगरानी तेज कर दिया है । तमाम अधिकारियों ने दौरा कर आये हुये युवको के संपर्क में आये लोगों की पहचान करने मे जुटी हुई है। हालांकि आला अफसरों ने स्पष्ट किया है कि किसी में कोरोना के लक्षण नही हैं। ऐतिहातन सभी का जांच कराया जायेगा। सभी आठों को जिला क्वारेन्टाइन मे ले जाया गया।

जिलाधिकारी ने गुरुवार को ही लोगों से अपील की थी कि वे अफवाहों पर ध्यान न दें और प्रशासन की पूरी तरह से सहायता करें । अब देखने वाली बात यह है कि भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट क्या आती है । न सिर्फ जनपद वासियों को बल्कि प्रशासन को भी जांच रिपोर्ट का बेसब्री से इंतजार है । रिपोर्ट के आधार पर ही जनपद के लिए अगली गाइडलाइन प्रशासन तय करेगा ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!