कोटेदार द्वारा खाद्यान वितरण में कटौती करने का ग्रामीणों ने लगाया आरोप

धर्मेन्द्र गुप्ता/रमेश यादव (संवाददाता)

विंढमगंज । स्थानीय विकास खण्ड के ग्राम पंचायत फुलवार में कोटा के दुकान पर मिलने वाली खाद्य सामग्री में कटौती कर भोले-भाले आदिवासी ग्रामीणों का अनावश्यक शोषण किया जा रहा है। प्रधानमंत्री द्वारा प्रत्येक यूनिट पर पांच किलो चावल मुफ्त में दिया जा रहा है।ग्रामीणों ने बताया कि कोटेदार द्वारा एक कटोरी रख लिया गया है। पात्र लोगों को चावल देते समय उसमें से एक कटोरी चावल निकाल लिया जा रहा है। ग्रामीणों द्वारा आपत्ति करने पर निकले गए चावल से कोरोना से पीढ़ित के लोगों के लिए सहयोग किया जाएगा। जहां सरकार गरीबों की हर मदद करने के लिए तमाम तरह की योजनाएं बना रही है वहीं गरीब ग्रामीण तक जाते-जाते योजना भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाती है। सप्लाई इन्स्पेक्टर राम लाल यादव ने बताया कि जो चावल निकाला जा रहा है वह ग्राम विकास अधिकारी द्वारा निकाला जा रहा है। बता दें कुछ दिन पूर्व फुलवार कोटा के दुकान पर ही पैसा लेकर गला देने का ग्रामीणों ने आरोप लगाया था। जिस पर सप्लाई इन्स्पेक्टर द्वारा पैसा वापसी कराया गया था। उसके कुछ ही दिन बाद फुलवार कोटेदार द्वारा एक बार फिर धांधली का एक और बड़ा खुलासा हुआ है। ग्राम पंचायत फुलवार में पात्र गृहस्ती कार्ड धारकों की संख्या 674 है और टोटल यूनिट 2879 है जबकि कोटेदार द्वारा सभी कार्ड धारकों के 2 से 3 यूनिट काट कर राशन वितरण किया गया है। लाभार्थी कलावती देवी का 7 यूनिट राशन का कार्ड है लेकिन उन्हें 4 यूनिट ही मिलता है। इसी प्रकार निर्मला का 4 की जगह 3, शीलवंती 6 के स्थान पर 4, बिहारी भुइया 8 यूनिट पर 5 तथा लीलावती का 5 यूनिट पर मात्र 3 यूनिट ही राशन मिलता है। इसी तरह के कई अन्य लाभार्थियों को निर्धारित यूनिट से कम राशन दिया जा रहा है।

इस कोरोना महामारी में गरीब आदिवासियों के लिये बहुत ही दयनीय स्थिति साबित हो रहा है, जिसको लेकर ग्रामीणों में काफी रोष देखने को मिल रहा है।मजेदार बात यह है कि विभाग सब कुछ जानते हुए चुप्पी साधे पड़ा है। कोटेदार का कहना है कि हमको विभाग द्वारा पूरा यूनिट का राशन नही दिया जाता हैं, इस लिये हम लाभार्थी को पूरा यूनिट का राशन नही देते है। इसकी शिकायत ग्राम प्रतिनिधि नंदू यादव ने जिला कंट्रोल रूम व 1076 पर किया गया लेकिन अभी तक कोई करवाई न होने पर कार्ड धारकों व ग्रामीणों में रोष है।

दुद्धी उपजिलाधिकारी ने कहा कि मामले की जांच करा रहे हैं जांच के आधार पर कार्रवाई किया जाएगा।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!