देश को कोरोना से बचाने के लिए बनाकर दिए 80 मास्क

राकेश यादव रौशन (संवाददाता)
– रेनू, सविता और सीमा के जज़्बे को हर कोई कर रहा सैल्यूट

मारूफपुर । देश के लिए कुछ करने का जज़्बा हो तो, संसाधनों की कमी मार्ग का रोड़ा नहीं बनती। देश में ऐसी बहुत सी महिलाएं हुई हैं, जिन्होंने देश पर संकट आने पर खुद मोर्चा संभाली हैं। ऐसी ही महिलाएं हैं मारूफपुर कस्बा निवासिनी रेनू, सविता और सीमा। जिन्होंने लोगों को कोरोना से बचाने के लिए खुद ही मास्क बनाकर आज गरीबों में वितरित की। रेनू, सीमा और सविता एक माध्यम वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखती हैं। इनके परिवार में अर्थ के भी संसाधन नहीं हैं, किन्तु दिल और ज़ज्बे की कमी नहीं है। रेनू देवी कहती हैं कि जब देश पर संकट आया है तो इससे निपटने के लिए हम लोगों ने भी अपना योगदान देने की सोचा। सविता देवी ने बताया कि हम लोग राष्ट्रीय आजीविका मिशन से जुड़ी हैं। कताई, बुनाई और सिलाई द्वारा जीविका चलाती हैं। हम लोगों ने बाजार से कपड़ा मंगाकर स्वयं की मशीन से तीन दिन में मास्क को तैयार कर दिया है, जिसे आज निःशुल्क गरीबों में वितरित किया गया। सीमा कहती हैं कि मानव सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं है। इनके इस नेक कार्य की हर तरफ तारीफ हो रही है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!